NDA से TDP ने तोड़ा नाता, लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

आखिरकार टीडीपी ने एनडीए से अलग होने की घोषणा कर दी। पार्टी की शुक्रवार को हुई पोलित ब्यूरो की बैठक में यह फैसला लिया गया, जिसके बाद तेदेपा के 16 सांसदों ने एनडीए से अपना समर्थन वापस ले लिया। बता दें कि आंध्रप्रदेश को 'विशेष राज्य' का दर्जा दिए जाने के मुद्दे पर टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर दबाव बना रहे हैं।

गौरतलब है कि गत 8 मार्च को टीडीपी के दो मंत्रियों ने एनडीए सरकार से इस्तीफा दे दिया था, हालांकि इसके बावजूद पार्टी ने कहा था कि वह केंद्र को अपना समर्थन जारी रखेगी। अमरावती में आयोजित पोलित ब्यूरो की बैठक में चंद्रबाबू नायडू ने अपने सांसदों से टेलिकॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कहा कि वे आंध्रप्रदेश को 'विशेष राज्य' का दर्जा दिलाने के मुद्दे पर दिल्ली में एनडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएं।

उधर, टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने टीडीपी के इस फैसले का स्‍वागत किया है। उन्‍होंने कहा कि 'देश को तबाही से बचाने की जरूरत है। देश को राजनीति अस्थि‍रता से बचाना है। लिहाजा, सभी दलों को साथ मिलकर काम करना होगा।'

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *