जनता की आंखों में धूल न झोंके राजदः भाजपा

प्रदेश भाजपा प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर ने राजद पर पलटवार करते हुए कहा है कि जनता की आंखों में धूल झोंकने के लिए लालू प्रसाद के मामले में भाजपा-संघ का नाम लिया जा रहा है। सच्चाई यह है कि जब लालू प्रसाद अपनी ही सरकार के समय किए चारा घोटाले में फंसे, जेल गए और पहली बार सजा पाई। तब केंद्र में भाजपा की सरकार भी नहीं थी।

प्रवीण प्रभाकर ने कहा कि राजद के झारखंड प्रभारी जयप्रकाश नारायण यादव का यह बयान हास्यास्पद है कि भाजपा-संघ ने लालू को फंसा दिया है। ऐसा कहकर वह न्यायालय के निर्णय को राजनीतिक रंग दे रहे हैं और न्यायालय का भी अपमान कर रहे हैं। न्यायालय द्वारा घोटाले में दोषी ठहराए गए लालू प्रसाद का महिमामंडन कर राजद ने जता दिया है कि उसके लिए राजनीति में शुचिता का कोई स्थान नहीं है। लालू प्रसाद पर आरोप तब लगा था, जब केंद्र में देवगौड़ा की सरकार थी तथा बिहार में वह खुद मुख्यमंत्री थे। जब वह राबड़ी देवी को मुख्यमंत्री पद सौंपकर पहली बार जेल गए तो उन्हीं की पार्टी के ही आइ के गुजराल प्रधानमंत्री थे। लालू प्रसाद को राजद समर्थित यूपीए के शासनकाल में ही पहली बार दोषी करार देकर सजा सुनाई गई।

प्रवीण प्रभाकर ने कहा कि राजद नेता कह रहे हैं कि लालू प्रसाद के जेल जाने पर पार्टी मजबूत होगी। ऐसा कहकर उन्होंने लोकतंत्र का माखौल उड़ाया है। उन्हें समझ लेना चाहिए कि कोई व्यक्ति कितना भी प्रभावशाली क्यों हो कानून और संविधान से ऊपर नहीं है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *