गोमिया में आजसू- बीजेपी दोनों ने किए विकास के दावे

सूबे में होने वाले उपचुनाव को लेकर सियासी सरगर्मी तेज होती जा रही है। सत्तापक्ष और विपक्ष एक-दूसरे पर खूब आरोप- प्रत्यारोप लगा रहे हैं। सत्तापक्ष विकास के मुद्दे को लेकर मैदान में उतरा है तो वहीं विपक्ष ने सत्तापक्ष के विकास को खोखला बताते हुए जनता से सबक सिखाने की अपील की है।
इन सब के बीच गोमिया विधानसभा सीट में लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है। जहां एक ओर आजसू उम्मीदवार जनता से कह रहे हैं कि क्षेत्र के विकास के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की है और आगे भी करते रहेंगे इसीलिए उन्होंने अपनी सरकारी नौकरी छोड़ी है ताकि वे जनता की सेवा कर सकें, क्षेत्र का समुचित विकास कर सकें। उधर, बीजेपी के सभी नेता यहां तक की मुख्यमंत्री ने भी कहा है कि गोमिया के विकास के लिए उन्होंने विशेष ध्यान दिया है। क्षेत्र के विकास के लिए करोड़ो रुपए दिए गए हैं। और आगे भी सरकार विकास करती रहेगी। देखा जाय तो आजसू और बीजेपी की सरकार है लेकिन गोमिया सीट पर दोनों दलों के उम्मीदवार खड़े हैं और अपना किस्मत आजमा रहे हैं। उधर,
झामुमो के पूर्व विधायक योगेन्द्र महतो की पत्नी इस विस सीट से चुनाव लड़ रही हैं। योगेंद्र महतो का कहना है कि बीजेपी आजसू चाहे जितना जोर लगा ले यहां जीत झामुमो की ही होगी। वहीं, विधायक जगरनाथ महतो की मानें तो बीजेपी- आजसू के अलग-अलग चुनाव में उतरने से झामुमो की जीत पक्की है। झामुमो के रोकने वाला अब कोई नहीं है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *