उपचुनावों में हार के बाद बौखला गई है बीजेपीः अखिलेश

उत्तर प्रदेश में बंगले को लेकर सियासत गरमाती जा रही है। बीजेपी नेताओं द्वारा निशाने पर रहे यूपी पूर्व सीएम और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव सरकारी बंगले में तोड़फोड़ मामले को लेकर मीडिया से मुखातिब हुए उन्होंने कहा कि गवर्नर साहब अच्छे आदमी हैं। उन्हें संविधान के हिसाब से बोलना चाहिए, लेकिन कभी-कभी उनके अंदर संघ की आत्मा आ जाती है तो क्या करें। दरअसल, बंगले में तोड़फोड़ मामले पर राज्यपाल ने ही कार्रवाई करने के लिए राज्य की योगी सरकार से सिफारिश की है। अखिलेश यहीं नहीं रूके उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ पर भी खूब निशाना साधा। कहा कि हमें तो पांच साल बाद लखनऊ में घर ढूंढना पड़ा, लेकिन इनको तो कभी भी खोजना पड़ सकता है। ये क्या करेंगे? उन्होंने कहा कि घर की सुंदरता घर वालों से आती है। मैं चाहता हूं कि हमने जो बंगला खाली किया वो हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को मिलना चाहिए।

अखिलेश यादव ने कहा कि आप थानों से पता करिये कि टोंटिया कौन निकाल ले जाता है। आपसे पहले वहां कौन गया था, किसी और ने तो टोंटिया नहीं निकाली। अखिलेश ने आरोप लगाया कि सरकार की शह पर दो अधिकारी मेरे घर पर पहले गए। इसकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा, 'आज जो अधिकारी बंगले में टोंटी खोज रहे हैं, वही अधिकारी मेरे सत्ता में आने के बाद चिलम खोजेंगे। इसके अलावा अखिलेश ने कहा कि मेरे बंगले में टोंटी टूटी नहीं थी। फिर किसने ये खबर लीक की, आपने उस स्मैकिया को पकड़ा नहीं है।

सपा अध्यक्ष ने बीजेपी पर भी हमला किया और कहा कि ये लोग हमेशा मुख्य मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए ऐसा करते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं कई बार बोल चुका हूं, ये एक जेब अफीम रखते हैं। दूसरी जेब में क्लोरोफॉर्म। अब ये जो टोंटी है वो इनका क्लोरोफॉर्म के रूप में सामने आया है। उन्होंने कहा कि उपचुनावों में हार के बाद से बीजेपी बौखला गई है और उनपर बेवजह बेबुनियाद आरोप लगाए जा रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *