सांगठनिक तैयारियों में भाजपा सबसे आगे, अन्य दल पीछे

-कार्यकर्ताओं में संवाद के जरिये जोश भर रहे भाजपा के वर्तमान संगठन प्रभारी

झारखण्ड में कांग्रेस, झामुमो और झाविमो जैसे प्रमुख राजनीतिक दल जहां अगले चुनाव की तैयारियों को लेकर हरकत में नहीं दिखते, वहीं भाजपा अगले चुनाव की तैयारियों में जोर-शोर से लगी है. भाजपा का हर प्रकोष्ठ बेहतर समन्वय के साथ एक-एक बूथ तक पहुंचने की तैयारी में लगा हुआ है. इसकी वज़ह हैं भाजपा के वरीय पदाधिकारी. उत्तर प्रदेश में भाजपा की करिश्माई जीत के प्रमुख पॉलिटिकल इंजीनियर और वर्तमान संगठन प्रभारी धर्मपाल सिंह ने भाजपा में नयी जान फूंक दी है. इनके झारखण्ड आने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं के हौसले बेहद बुलंद हुए हैं. बेहद कम समय में कार्यकर्ताओं के साथ जीवंत संवाद कायम कर इन्होंने निराश हो रहे समर्पित कार्यकर्ताओं को लक्ष्य देकर संगठन के विभिन्न कार्यों में उन्हें लगा दिया है. झारखण्ड आते ही संगठन प्रभारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के तय किए गए लक्ष्य के अनुरूप काम करना शुरू कर दिया है.

तेज़ी से काम करने और कार्यकर्ताओं को साथ लेकर एक-एक बूथ की रणनीति तैयार करने में माहिर धर्मपाल सिंह झारखण्ड फतह के अपने मिशन पर लग गए हैं. हर प्रकोष्ठ के लिए लक्ष्य का निर्धारण कर उससे सम्बंधित लोगों के लिए विजन डॉक्यूमेंट इन्होंने तय कर दिए हैं. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जैसे अन्य सहयोगी संगठनों के साथ समन्वय स्थापित कर काम करने के कारण हर ग्रुप में वैचारिक स्तर पर जोश भरा है.

पार्टी के एक जुझारू युवा नेता कहते हैं कि धर्मपाल जी बेहद मृदुभाषी हैं. हर कार्यकर्ता को बोलने का मौका देते हैं. हर कार्यकर्ता की परेशानी से खुद जुड़ जाते हैं. इस वज़ह से पहली बार ऐसा हो रहा है कि कोई भी सामान्य भाजपा कार्यकर्ता देर रात भी बिना झिझक उन्हें फ़ोन कर लेता है, धर्मपाल सिंह केवल कार्यकर्ता का फ़ोन ही नहीं उठाते बल्कि तुरंत उस इलाके के सांसद या विधायक को कार्यकर्ता की समस्या सुलझाने भी कहते हैं. संगठन के सबसे वरिष्ठ पदाधिकारी के इस व्यवहार से हर सामान्य कार्यकर्ता भी अपने को विशेष समझने लगता है.

भाजपा के कई जिलाध्यक्ष भी कहते हैं कि धर्मपाल जी की बेजोड़ संगठन क्षमता का लाभ उन्हें मिल रहा है. हर मंडल में सक्रिय कार्यकर्ताओं की लगातार बैठकें हो रहीं हैं और संगठन प्रभारी खुद इसकी मोनिटरिंग कर रहे हैं. झारखण्ड के अन्य राजनीतिक दल भी भाजपा की सक्रियता देखते हुए आनेवाले चुनाव के लिए शायद अब तैयारी शुरू करें.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *