नीतीश जी! बंगाल में क्यों पिटाये आपके मंत्री

सुशासन की बात करने वाले बिहार के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा पश्चिम बंगाल के तारापीठ में पिट गए. वो क्यों पिटे, कैसे पिटे इसके बारे में तरह-तरह की बातें हो रही हैं. कहा जा रहा है कि सत्ता के नशे में मंत्री इतने चूर थे कि धर्म नगरी में पहुंच कर भी वो होटल वाले कर्मियों से गाली गलौज करने लगे. जिसकी प्रतिक्रिया में होटल कर्मियों ने उन्हें पीट दिया. इस घटना के बाद मंत्री की काफी लानत मलामत हो रही है. विपक्षी दल राजद ने तो मंत्री को बर्खास्त करने तक की मांग कर दी है.

हुआ यूं कि नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा नए साल पर पश्चिम बंगाल की धर्मनगरी तारापीठ में माँ तारा के दर्शन करने गए थे. उसी दौरान एक होटल में वहां के स्टाफ के साथ उनकी बहस हो गई. होटल के कर्मचारियों ने सुरेश शर्मा और उनके साथ गए लोगों की धुनाई कर दी. 
मुजफ्फरपुर से बीजेपी विधायक सुरेश शर्मा कुछ लोगों के साथ तारापीठ में दर्शन से पहले होटल सोनार बंगला में पहुंचे. यहां मंत्री जी का कहना था कि जब मौसम सर्दी का है, तो एसी वाले कमरे में एसी चार्ज क्यों दें? ऐसे में मंत्री जी ने बुकिंग चार्ज वापस लौटाने की मांग की.

इस मामले को लेकर होटल के स्टाफ और उनके समर्थकों के बीच बहस हुई, जो बाद में मारपीट में बदल गई. 

विधायक के पर्सनल सेक्रटरी संजीव कुमार ने बताया, 'हमलोगों ने दो कमरे बुक किए थे. इनमें एक में एसी था और दूसरा चार बेडरूम का था. ये कमरे हमारे उम्मीदों के मुताबिक नहीं थे. जब हमलोगों ने बेहतर कमरे देने को कहा तो होटल के कर्मचारियों ने हमारे साथ गलत व्यवहार किया. हमलोग होटल से जाना चाहते थे और बुकिंग चार्ज लौटाने की मांग हमने की. इसी बात पर गुस्सा होकर होटल के कर्मचारी मारपीट करने लगे.' 


हालांकि होटल सोनार बंगला के प्रबंधक कहते हैं कि हमारे स्टाफ ने मार पीट शुरू नहीं की. वो कहते हैं कि मंत्री जी के गार्ड और अन्य कर्मी गाली गलौज करने लगे हमारे स्टाफ ने रोका तो धमकी देने लगे. सोनार बंगला यहाँ एक प्रतिष्ठित नाम है और एक जनवरी की भारी भीड़ यहाँ होती है, ऐसे में सभी कमरे पहले से फूल थे. ये लोग तो मंत्री के व्यवहार को ही मर्यादा के खिलाफ मानते हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *