सांसद रहते सुबोधकांत सहाय ने रांची में कोई काम नहीं किया : सीपी सिंह

केंद्र में फिर से मोदी सरकार स्थापित कराने के लिए झारखण्ड में मुख्यमंत्री से लेकर उनके सहयोगी मंत्री और पदाधिकारी जी जान से लगे हुए हैं.पांच सालों में केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किये गये विकास योजनाओं को गिनाने से चुक नहीं रहे हैं.इसी क्रम में गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री सह रांची के पूर्व सांसद सुबोधकांत सहाय के बारे में कहा कि वे अपने संसदीय कार्यकाल में रांची लोकसभा में कोई भी कार्य नहीं किया है. यहाँ तक की वे केंद्र में मंत्री भी रह चुके हैं.उस दौरान भी रांची के लिए कुछ नहीं किया है. वे सिर्फ नारियल फोड़ने का काम करते थे. 2004 से 2014 तक वे केंद्र में मंत्री थे.श्री सिंह ने कहा कि वे महागठबंधन के प्रत्याशी के रूप में रांची से चुनाव लड रहे हैं. उनके नेता सह प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने अपने मुख्यमंत्री काल में इस्लामनगर को उजाड़ा और भाजपा ने बसाने का काम किया है. कुल मिलाकर देखा जाय तो केंद्र की मोदी सरकार में जितने विकास के कार्य पांच सालों में हुए उतना बीते 70 सालों में नहीं हुआ.

श्री सिंह ने कहा कि भाजपा राष्ट्रवाद के साथ-साथ विकास के नाम पर वोट मांग रही है। रांची लोकसभा चुनाव महत्वपूर्ण और निर्णायक है। चुनाव प्रचार में कांग्रेस प्रत्याशी सुबोधकान्त सहाय गाड़ी से ही हाथ हिला रहे हैं,नीचे नहीं उतर रहे हैं। उन्होंने कहा कि रांची की जनता ने लोकसभा चुनाव में भाजपा को वोट करने का मन बना लिया है. प्रेस वार्ता में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के साथ प्रदेश के मंत्री सुबोध कुमार सिंह गुड्डू, पूर्व प्रवक्ता प्रेम मित्तल प्रदेश के सह मीडिया प्रभारी संजय कुमार जयसवाल प्रदेश कार्यसमिति सदस्य संध्या सिंह उपस्थित थे.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *