पाटलिपुत्र की धरती पटना में कोरोना वैक्सीन का हुआ आगमन

कोरोना की वैक्सीन मंगलवार को पाटलिपुत्र की धरती पटना पहुंची.कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पटना पहुंची वैक्सीन की खेप को रेफ्रिजरेटेड वैन से एनएमसीएच से स्थित वैक्सीन के स्टेट कोल्ड स्टोरेज में पहुंचाया गया।वैसे तो सरकार की तरफ से बताया गया था कि वैक्सीन की पहली खेप 14 जनवरी यानी मकर संक्रांति के दिन पटना पहुंचेगी। लेकिन मंगलवार की सुबह बिहार के स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई जब उन्हें पता चला कि पुणे स्थित सीरम इंस्टिट्यूट से डिलीवर की जाने वाली पहली खेप में पटना के लिए भी वैक्सीन हैं। स्पाइस जेट के विमान से मंगलवार की दोपहर पटना में भेजी गई पहली कसाइन्मेंट में 46 बॉक्स आये है जिनमें 54,000 वैक्सीन के एमपुल है। वैक्सीन की इस कंसाइनमेंट को रिसीव करने स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ एयरपोर्ट पहुंचे बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने आज के दिन को ऐतिहासिक बताया। एक एमपुल से 10 लोगो को वैक्सीन का डोज दिया जाएगा। यानी करीब 540,000 लोगों को वैक्सीन का पहला डोज दिया जाएगा। अभी तक पहले फेज के लिए बिहार में 4,62000 लोगो ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। पहले चरण में हेल्थ वर्कर को वैक्सीन दिया जाना है। 16 जनवरी को पटना के आइजीआइएमएस से बिहार में कोरोना के वैक्सीनेशन की शुरुआत होगी। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद रहेंगे।वैक्सीन को पटना एयरपोर्ट से लेकर अगमकुआं स्थित एनएमसीएच में बनाये गए वैक्सीन के स्टेट कोल्ड स्टोरेज तक पहुंचने के लिए सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की गई थी। इसके लिए पांच हाईटेक रेफ्रिजरेटेड वैन की व्यवस्था की गई थी। इन्ही वैन में रखकर इन वैक्सीन को कोल्ड स्टोरेज तक ले जाया गया गया। जहा पर इन वैक्सीन को वैन से निकालकर स्टोरेज में रखा गया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *