झारखंड के 50 विधानसभा क्षेत्र में बामदल के प्रत्याशी खड़े होंगे : मेहता

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी रांची राज्य कार्यालय में वामदलों कि बैठक मासस नेता मिथिलेश सिंह की  अध्यक्षता में हुई,  जिसमें मुख्य रूप से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सह  पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता नेता ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की आर्थिक नीतियों के कारण देश आर्थिक संकट से जूझ रहा है।  नरेंद्र मोदी की सरकार दोनों हाथों से जनता की गाढ़ी कमाई को लूटा रहे हैं।  सार्वजनिक कल कारखाने को बंद कर रहे हैं । देश में निजी करण का दौर चल रहा है , जिससे देश संकट में है, बैंकों का एकीकरण इससे देश को आर्थिक रूप से काफी नुकसान हो रहा है , आर्थिक सुधार करने के लिए सरकार को आगे आकर जनहित में काम करनी चाहिये।  इन सारे सवालों को लेकर राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के तहत, झारखंड के सभी प्रमंडल मुख्यालयों में 12 अक्टूबर तक जन जागरण अभियान एवं प्रमंडल मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन करने,  16 अक्टूबर को रांची में विशाल कन्वेंशन करने का निर्णय लिया गया। नेताओं ने कहा कि झारखंड विधानसभा के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को शिकस्त देने के लिए। गठबंधन का पक्षधर हैं विपक्ष के सभी लोग मिलकर एक बड़ा गठबंधन बनाकर भारतीय जनता पार्टी को परास्त करनी चाहिए । अगर विपक्ष गोल बंद नहीं हो पाती है उस परिस्थिति में वामदलों के प्रतिनिधि झारखंड विधानसभा के 50 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव लड़ेंगे। इसको लेकर संयुक्त रूप से जन जागरण अभियान एवं जनता को गोलबंदी कर सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में गोलबंद होने का आवाहन किया जाएगा । इस अवसर पर पूर्व राज्य सचिव कामरेड के डी सिंह ,सहायक राज्य सचिव महेन्द्र पाठक, राजेंद्र यादव, पीके पांडे ,स्वयंबर पासवान ,मोहम्मद isak ,CPIM ke Rajya Sachiv गोपी कांत बख्शी ,सुखनाथ लोहरा, भाकपा माले के राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद, मासस के मिथिलेश सिंह, राजेंद्र गोप अजय  सिंह कार्यालय सचिव आदि कई लोग मौजूद थे। 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *