अप्रैल 12, 2024

Rajneeti Guru

राजनीति, व्यापार, मनोरंजन, प्रौद्योगिकी, खेल, जीवन शैली और अधिक पर भारत से आज ही नवीनतम भारत समाचार और ताज़ा समाचार प्राप्त करें

राजनीति गुरु – मध्य प्रदेश पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी का बयान: गंगा मैया नर्मदा मैया की जय बोलना शर्म की बात

राजनीति गुरु – मध्य प्रदेश पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी का बयान: गंगा मैया नर्मदा मैया की जय बोलना शर्म की बात

अजीज कुरैशी का निशाना साधना, कांग्रेस के नेताओं पर उठाए सवाल

वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस पार्टी की ओर से अपनी कटिबद्धता पर सवालों की उठाई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता जय गंगा मैया, जय नर्मदा मैया कहते हैं, लेकिन इन प्रीचक शब्दों के पीछे उनकी वास्तविकता को लेकर कई सवाल बाकी रह जाते हैं।

उन्होंने अपने बयान के बाद इस शंका को ताजगी देते हुए कहा कि उनका निशाना सिर्फ कांग्रेस पार्टी पर ही सीमित नहीं है, बल्कि वहां की कार्यशैली और मानसिकता पर भी मुद्दों को खोलकर रखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि ये नहीं ठान सकते कि श्री राहुल गांधी क्या सोचते हैं और क्या चाहते हैं लेकिन उनका यह बयान पर्टी में काफी सनसनी मचा रहा है।

इस वीडियो की तेजी से वायरल होने के बाद भाजपा ने भी कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है। उनके प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने अपनी पोस्ट में इस वीडियो पर कमेंट करते हुए लिखा है कि अजीज कुरैशी कांग्रेस के सीनियर नेता हैं और उनके बयान ने पार्टी के लिए गंभीर समस्याएं पैदा कर दी हैं।

अजीज कुरैशी ने इस वीडियो में भोपाल में कई मंदिरों और पीसीसी कार्यालय में मूर्तियों के आदय से संबंधित बातें की हैं। उन्होंने कहा है कि भोपाल के प्रशासनिक दफ्तरों में बीजेपी की योजनाओं को बदलते रहने के चलते आपसी सद्भाव में कमी हो रही है और जगह-जगह मूर्तियां लगाई जा रही हैं। इसे देखकर कांग्रेस के नेता उनके मानसिकता पर सवाल उठा रहे हैं।

READ  राजनीति गुरु वेबसाइट: ED की टीम उपेक्षितहेंत सोरेन को खोज रही है, बीएमडब्ल्यू कार जब्त, एयरपोर्ट पर चेतावनी - आज तक

अजीज कुरैशी ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसलिए ये बातें उठाई हैं क्योंकि उन्होंने मानवाधिकार और संविधान की सुरक्षा के लिए काम किया है और वह सिर्फ ये चाहते हैं कि उन्हें इस बात की इजाजत दी जाए। उन्होंने कहा है कि उन्हें इस मामले की जांच के लिए समय देने की अपील की गई है ताकि ये मुद्दा जनता के सामाजिक और राजनीतिक मानसिकता में सफाई ला सके।

अभी तक कांग्रेस पार्टी ने इस पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं दी है, हालांकि वह किसी भी समय में प्रेस वार्तालाप का आयोजन कर सकती है।