दिसम्बर 7, 2023

Rajneeti Guru

राजनीति, व्यापार, मनोरंजन, प्रौद्योगिकी, खेल, जीवन शैली और अधिक पर भारत से आज ही नवीनतम भारत समाचार और ताज़ा समाचार प्राप्त करें

राजनीति गुरु: पाकिस्तान के खिलाफ खेलेंगे शुभमन गिल! एक घंटे तक किया अभ्यास – मोबाइल – पंजाब केसरी

राजनीति गुरु: पाकिस्तान के खिलाफ खेलेंगे शुभमन गिल! एक घंटे तक किया अभ्यास – मोबाइल – पंजाब केसरी

“कोरोनावायरस के प्रभाव से अप्रैल में देश में 1.81 लाख लोगों ने खोई नौकरी, अब भी ताकतवर रही यह रोग”

कोविड-19 महामारी के बढ़ते संक्रमण के कारण हालांकि देश में ज़्यादातर क्षेत्रों में अप्रैल महीने में रजिस्टर्ड नौकरी खोने वाले लोगों की संख्या में थोड़ी कमी हुई है, फिर भी यह खबर चिंता का विषय बन रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, अप्रैल महीने में देश के विभिन्न हिस्सों में 1.81 लाख लोगों ने अपनी नौकरीयां खो दी हैं। इसके चलते, अब तक कुल 7.3 करोड़ लोगों को कोविड-19 के कारण नौकरी छोड़नी पड़ चुकी है।

महीने के पिछले सात दिनों में डेली नौकरी खोने वालों की संख्या हल्की मुद्रास्फीति हो रही है, लेकिन दूसरी ओर मज़दूरी बुक करने वाली कंपनियों की संख्या बढ़ रही हैं। निर्माण एवं हॉटल, रेस्टोरेंट क्षेत्रों में नौकरीयों की गिरावट होने पर नजर आ रही है।

मानचित्रण संगठन ने कहा है कि यह नौकरीयों की गिरावट सबसे ज्यादा असंगठित कामधेनु लोगों को प्रभावित करेगी। उन्होंने कहा है कि जैसा कि डेली वेज कार्ड पर काम करने वालों की संख्या दिनदिन बढ़ती जा रही है, वैसे ही बेरोजगारी भी बढ़ रही है।

इन सबके बावजूद, भारत सरकार इस मुद्दे का प्रयास कर रही है कि अधिक से अधिक व्यक्ति नयी रोजगारी पा सकें। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा मंत्रालय के अनुसार, छत्तीसगढ़, त्रिपुरा और पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में नवीनतम कार्यक्रमों की जांच की जा रही है। इसके अलावा नौकरी की गुमांशी और सरकारी माध्यम द्वारा सुविधाओं की व्यापवृत्ति के संबद्ध में यूनाइटेड स्टेट्स द्वारा बनाई गई योजनाओं की व्याप्क जांच की जाएगी।

READ  राजनीति गुरु: WI vs IND: यशस्वी जायसवाल का विरोध करना चाहेंगे डेब्यू मैच पर कभी याद नहीं करेंगे

मानचित्रण संगठन द्वारा कहा गया है कि इस संकट के दौरान विभिन्न सरकारी सुविधाएं बचाने के लिए न्यायालयों ने अपनी ओर से एक नोटिफिकेशन जारी की है। इस विषय पर चर्चा करते हुए, सरकार एक नई योजना घोषित कर सकती है जिसमें रोजगार को आत्मनिर्भर बनाने के सिरे एक साधारित की गई हैं। इस योजना के तहत, सरकार नए व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने की योजना बना रही है।

सारांश में, लॉकडाउन के कारण कोविड-19 महामारी के प्रभाव से अप्रैल महीने में देश में 1.81 लाख लोगों ने खो दी है अपनी नौकरी। इसके चलते, अब तक कुल 7.3 करोड़ लोगों को कोविड-19 के कारण नौकरी छोड़नी पड़ चुकी है। हालांकि, सरकार नई योजना के माध्यम से रोजगार के लिए संघर्ष कर रही है और समय की मांग पर मदद प्रदान करने की कोशिश कर रही है।