मार्च 3, 2024

Rajneeti Guru

राजनीति, व्यापार, मनोरंजन, प्रौद्योगिकी, खेल, जीवन शैली और अधिक पर भारत से आज ही नवीनतम भारत समाचार और ताज़ा समाचार प्राप्त करें

राजनीतिक गुरु: MP CM रेस – शिवराज सिंह चौहान ने बताया सीएम की दावेदारी, सब कुछ हो गया साफ

राजनीतिक गुरु: MP CM रेस – शिवराज सिंह चौहान ने बताया सीएम की दावेदारी, सब कुछ हो गया साफ

मध्य प्रदेश में प्रचंड जीत के बाद बड़ा सवाल है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) किसे मुख्यमंत्री बनाएगी? इसमें सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पार्टी जो भी भूमिका देगी, हम निभाएँगे। उन्होंने कहा है कि जो अपने बारे में सोचता है, वह अच्छा कार्यकर्ता नहीं है। उन्होंने यह भी बताया कि पार्टी जो उपयुक्त समझेगी, वही काम तय करेगी। इसके अलावा, उन्होंने यह भी दर्ज किया कि वे कार्यकर्ता के नाते हर काम करते हैं और करेंगे।

वे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सोच और विचार वहाँ के देश और पार्टी के लिए और बेहतर करने के लिए है। उन्होंने स्पष्ट किया कि उनका मुकाबला मुख्यमंत्री पद के लिए किसी और नेता के साथ नहीं होगा।

मध्य प्रदेश में हाल ही में हुयी भारी सीटों की जीत के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान को बहुत सारे सवालों का सामना करना पड़ रहा है। उनके लिए मुख्य सवाल यह है कि उनकी पार्टी किस नेता को मुख्यमंत्री पद के लिए चुनेगी। जब प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल किया गया तो उन्होंने खुशी की झलक दिखाई दी। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी गठबंधन सरकार की गठन के बाद उन्हें एक नेत्र संयंत्र की तरह देखेगी और उनका महत्वपूर्ण कार्य होगा मुख्यमंत्री की सीट चुनना। उन्होंने कहा कि चुनावों के बाद पार्टी कई विषयों पर चर्चा करेगी और तब ही चुनाव के नतीजों के आधार पर मुख्यमंत्री का नाम किया जाएगा।

इसके साथ ही, उन्होंने कहा कि उनका विचार यह है कि कहीं न कहीं पार्टी का प्रमुख नेता ही मुख्यमंत्री बन सकता है। वे ने यह भी बताया कि उनका प्रमुख विचार हर राजनीतिक नेता को इस बात पर विचार करना चाहिए कि आखिर क्या उसकी सोच और विचार उस देश और पार्टी के लिए बेहतर है। उन्होंने कहा कि वे मुख्यमंत्री के पद की उम्मीदवारी में नहीं हैं और वह दूसरे नेता के साथ एक सांगठनिक गठबंधन नहीं करेंगे।

READ  राजनीति गुरु: मणिपुर में फिर हिंसा! कुकी उग्रवादियों ने सुरक्षाबलों पर किया हमला, पुलिस - एबीपी न्यूज़

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इसके अलावा भी कहा कि वे हमेशा से अपने देश और पार्टी की भलाई के लिए सोचते रहे हैं और उन्होंने सीमित समय के बीच खुद को एक उत्कृष्ट नेता के रूप में साबित किया है। इसके साथ ही, उन्होंने भाजपा की कठिनाईयों का भी सामना किया है और उन्होंने अपनी पार्टी को बराबरी के बदले हर जनसेवा के मद्देनजर काम करने की बात कही है।

इससे पहले अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि मध्य प्रदेश में विकास के कई कार्यक्रमों के जरिए उन्होंने राष्ट्रीय मानदंड पर प्रत्याशाओं को फिर से संभाला है। उन्होंने कहा कि उनके प्रयासों के बाद मध्य प्रदेश शांतिपूर्ण और सुरक्षित हो रहा है और लोग खुश हैं। सीएम ने कहा कि उन्होंने अच्छे नेतृत्व के माध्यम से प्रदेश को विकास का नया मार्ग दिखाया है और उन्होंने विकास के लिए सबसे महत्वपूर्ण कामों में सफलता प्राप्त की है।

साथ ही, सीएम के मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवारी पर जताई गई राय से पहले उन्होंने यह भी प्रकट किया है कि इस बार वे दूसरे नेता के साथ कोई सांगठनिक गठबंधन नहीं करेंगे। यह स्पष्ट करते हुए वे कहा है कि उन्होंने हमेशा अपने कार्य और सेवाओं से जनता के मन में स्थान बनाया है और इसमें उनकी ईमानदारी और निष्ठा ने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

सीएम चौहान कहते हैं कि वे विचार कर रहे हैं कि कौन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद की उम्मीदवारी के लिए चुने जाएं। वे कहते हैं कि उचित और पर्याप्त समय देने के बाद ही उनका नाम घोषित किया जाएगा।

READ  अरविंद केजरीवाल को चौथी बार भेजा गया समन, शराब घोटाले में पूछताछ के लिए - राजनीति गुरु

इस तरह, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश में प्रचंड जीत के बाद बीजेपी के मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवारी के मामले में अपने समर्थकों को मदद की घोषणा की है। वे यह भी कह चुकें हैं कि उनके द्वारा प्रदेश के विकास के लिए हर संभव कोशिश की जाएगी और उन्होंने अच्छे नेतृत्व के माध्यम से प्रदेश को विकास का नया मार्ग दिखाया है। उन्होंने अपने विचार और सेवाओं से जनता के मन में स्थान बनाया है और उनकी ईमानदारी और निष्ठा ने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।