वाजपेयी ने पूरा किया था अलग झारखंड राज्य का सपना

पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी की हालत नाजुक है। वे 11 जून से एम्स में भर्ती हैं। एम्स के मुताबिक उनकी हालत नाजुक है। वे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं।
पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के स्वास्थ्य को लेकर पूरे देश में दुआओं का दौर जारी है। झारखंड में भी उनके स्वास्थ्य के लिए मंदिरों और मस्जिदों में दुआएं मांगी जा रही हैं। इन सबके बीच झारखंड के लोग उनके उस सौगात को याद कर रहे हैं, जो उन्होंने आज से 18 साल पहले यानी 2000 में दी थी। ये वाजपेयी सरकार की ही देन है कि 15 नवम्बर 2000 को बिहार से अलग होकर झारखंड राज्य बना। उसी के साथ करीब 70 साल पुरानी झारखंडवासियों की मांग पूरी हुई थी।
बता दें कि 2 अगस्त 2000 को इससे संबंधित बिल संसद में पारित हुआ। उसी साल 15 नवम्बर को झारखंड देश के 28वें राज्य के रूप में अस्तित्व में आया। झारखंड के साथ-साथ छत्तीसगढ़ और उतराखंड का भी नये राज्य के रूप में जन्म हुआ। पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी छोटे राज्यों के पक्षधर रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *