TDP ने BJP से अलग होने का किया फैसला

आखिरकार आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिए जाने के मुद्दे पर नाराज होकर टीडीपी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से अलग होने का फैसला कर ही लिया। टीडीपी सुप्रीमो और आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने बुधवार देर रात इसका ऐलान किया। इसके साथ ही ये भी तय किया गया कि केंद्र सरकार में टीडीपी के मंत्री गुरुवार को मंत्री पद से अपना इस्तीफा दे देंगे।

सीएम चंद्रबाबू नायडू ने कहा है कि सूबे को विशेष दर्जा दिया जाना हमारा अधिकार है। केंद्र सरकार हमसे किया गया वादा पूरा नहीं कर रही है। हम इस मुद्दे को बजट के दिन से उठा रहे हैं, लेकिन सरकार की तरफ से इस संबंध में कोई जवाब नहीं आया है। नायडू ने कहा कि वह पिछले 4 साल से धैर्य दिखा रहे हैं और उन्होंने हर तरह से केंद्र सरकार को मनाने की कोशिश की है।

उन्होंने कहा कि एक जिम्मेदार नेता होने के नाते मैंने पीएम मोदी को इस संबंध में कई बार कहा लेकिन वह इसके लिए उपलब्ध नहीं हो सके। केंद्र सरकार हमारी बात सुनने के मूड में नहीं है। मुझे नहीं पता कि मुझसे क्या गलती हुई है। वह ऐसी बातें क्यों कर रहे हैं?' केंद्र में टीडीपी कोटे से मंत्री अशोक गजपति राजू और वाई. एस. चौधरी गुरुवार सुबह मंत्री पद से इस्तीफा देंगे। टीडीपी के सरकार से अलग होने को बीजेपी के लिए बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है। उधर, दिल्ली में बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि हम आंध्र प्रदेश के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं और हमने राज्य सरकार की हर मुमकिन मदद की है, लेकिन हम उनकी ऐसी मांगों को नहीं मान सकते, जो नामुमकिन हो।

उधर, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी इस मुद्दे पर सरकार का रुख स्पष्ट किया। जेटली ने कहा कि केंद्र विशेष दर्जा वाले राज्य के बराबर आंध्र प्रदेश की वित्तीय सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि वह इस आकलन से सहमत हैं कि राज्य के बंटवारे के बाद आंध्र प्रदेश आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। जेटली ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा अपने वादे को लेकर प्रतिबद्ध है। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की सीएम की मांग पर जेटली ने कहा कि जिस समय राज्य का बंटवारा हुआ, उस समय यह दर्जा दिया जा सकता था लेकिन, 14वें वित्त आयोग के बाद ऐसा कोई भी दर्जा सिर्फ नॉर्थ ईस्ट और पहाड़ी राज्यों के लिए ही वैधानिक है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *