भारतीय मुसलमानों का जिन्ना से कोई रिश्ता नहीं : तारिक अनवर

राष्ट्रीय राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के महासचिव व सांसद तारिक अनवर ने कहा कि आज जिन्ना के तस्वीरों को लेकर अनावश्यक विवाद खड़ा करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी की सरकार को जिन्ना की तस्वीरें पसंद नहीं हैं, तो वह एक आदेश देकर जिन्ना की सारी तस्वीरों को भारत से हटा सकते हैं। तारिक अनवर ने कहा कि भारतीय मुसलमानों का जिन्ना से कोई रिश्ता नहीं है। भारतीय मुसलमान आमतौर पर जिन्ना से अपनी पहचान को जोड़कर नहीं देखते।

भारत के मुसलमान महात्मा गांधी और मौलाना आजाद को अपना आदर्श मानते हैं और उनकी पहचान इन्हीं नेताओं से हैं। जहां तक भारत के आजाद होने पर धर्म आधारित विभाजन की बात है तो यह अपनी जगह एक ऐतिहासिक सत्य है कि भारत वर्ष के अधिकांश मुसलमान देश का बंटवारा हरगिज़ नहीं चाहते थे। यहां तक की स्वतंत्रता संग्राम के महानायक खान अब्दुल गफ्फार खान, मौलाना अबुल कलाम जैसे कई बड़े मुस्लिम नेता थे, जो मुस्लिम लीग की सांप्रदायिक राजनीति तथा उसके अलग मुस्लिम राष्ट्र बनाए जाने की नीति से सहमत नहीं थे। भारतीय मुसलमानों ने सभी समुदाय के लोगों के साथ मिलकर राष्ट्र निर्माण के लिए समान रूप से अपने कर्तव्य का निर्वहन किया है।

भारतीय मुसलमानों ने मोहम्मद अली जिन्ना के अलग पाकिस्तान के इस्लामी धर्म आधारित बंटवारे का खुलकर विरोध किया था। देश में ऐसे सैकड़ो राष्ट्रवादी मुसलमान हुए जिस पर देश नाज करता है आज राजनीतिक स्वार्थ के चलते भारतीय मुसलमानों को जिन्ना से जोड़कर दिखाने की कोशिश चिंताजनक है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *