कार्ति चिदम्बरम तो झांकी है, सोनिया, रॉबर्ट बाकीः BJP

मनी लॉन्डरिंग केस की जांच में सहयोग न करने के मामले में सीबीआई ने पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम के बेटे कार्ति चिदम्बरम को गिरफ्तार किया है। अब इस मामले को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में सियासी तकरार तेज हो गई है। दोनों दल एक-दूसरे को निशाना बना रहे हैं। कार्ति चिदम्बरम की गिरफ्तारी के बाद बीजेपी प्रवक्ता तजिंदर बग्गा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए ऐलान किया कि यह तो अभी केवल झांकी है। तजिंदर बग्गा ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा “कार्ति चिदम्बरम तो झांकी है, सोनिया, रॉबर्ट बाकी हैं।” वहीं पार्टी सूत्रों का कहना है कि कार्ति की गिरफ्तारी में कोई भी हैरानी वाली बात नहीं है। कार्ति पर जो केस चल रहा है वो सीधे तौर पर ऑपन एंड शट केस है।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि इसमें कोई राजनीति नहीं की गई है। यह एक कानूनी मामला है और संविधान से बढ़कर कुछ नहीं है। जांच एजेंसियां अपना काम कर रही हैं। वहीं कार्ति की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस नाखुश है और इसे प्रतिशोध की राजनीति बता रही है। कांग्रेस ने इसे नरेंद्र मोदी सरकार की अपने भ्रष्ट शासन मॉडल को छिपाने की रणनीति बताया है। कांग्रेस ने यह भी कहा कि विदेशी निवेश प्रोमशन बोर्ड (एफआईबीपी) मंजूरी मामले में बुधवार को चेन्नई में हुई गिरफ्तारी पार्टी को लोगों के सामने सच लाने से नहीं रोक सकती।

पार्टी की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी भाजपा का अपने विरोधियों के खिलाफ यह कदम प्रतिशोध की राजनीति से प्रेरित मालूम पड़ता है। प्रियंका ने कहा, “यह मोदी सरकार की अपने भ्रष्ट शासन मॉडल से ध्यान हटाने की पुरानी चाल है, जो हर रोज खुलकर सामने आ रहा है, चाहे नीरव मोदी का मामला हो, मेहुल चौकसी या द्वारका दास सेठ ज्वैलर्स का।” प्रियंका ने कहा कि भाजपा सरकार अपने विरोधियों को निशाना बनाने के लिए हमेशा की तरह इस बार भी प्रतिशोध की राजनीति कर रही है, लेकिन यह कांग्रेस को लोगों के सामने सच्चाई लाने से नहीं रोक सकता।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *