देश में फिरकापरस्त ताकतें सक्रिय हो गई हैं- भुवनेश्वर मेहता

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने कहा कि कर्नाटक में बीजेपी का असली चेहरा उजागर हो गया है। राज्यपाल के सहारे बीजेपी ने जिस प्रकार लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास किया वह निंदनीय है। उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस के नेतृत्व में देश में फिरकापरस्त ताकतें सक्रिय हो गई हैं और मजदूर-किसान, आदिवासी-दलित, छात्र-नौजवानों के मूल सवालों से उन्हें भटकाने के लिए तरह-तरह के भम्र फैला रही है। ये बातें उन्होंने भाकपा के झारखण्ड राज्य परिषद की दो दिवसीय बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कही।
उन्होंने बताया कि गोमिया और सिल्ली उपचुनाव में विपक्षी एकता को मजबूत बनाकर बीजेपी-आजसू को परास्त करना, पार्टी ने अपनी प्राथमिकताओं में रखा है। उन्होंने कहा कि सिर्फ भाकपा ही नहीं, पूरा वामपंथ आज झामुमो प्रत्याशियों के पक्ष मंत उतर चुका है। हम बीजेपी-आजसू को हराएंगे ही नहीं, बल्कि उसकी जमानत भी जब्त कराएंगे।
इस मौके पर निर्णय लिया गया कि 23 मई को हो रही- 'मोदी के चार साल पोल खोल, हल्ला बोल' कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए पार्टी और जनसंगठनों के सभी कार्यकर्ता जुटेंगे। उन्होंने बताया कि यह राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम है, जिसमें 108 जनसंगठनों के कार्यकर्ता शामिल होंगे।
पार्टी स्वतंत्र रूप से बिजली के बढ़ते दर और पेट्रोल पदार्थों की बढ़ती कीमत के खिलाफ 31 मई को जिला समाहरणालय के समक्ष धरना देगी। इसकी तैयारी में पार्टी कार्यकर्ता जुट चुके हैं।
पार्टी के सुव्यवस्थित संचालन के लिए 19 सदस्यीय कार्यकारिणी समिति और विभिन्न मोर्चों के लिए विभाग का गठन और उसके संयोजक का चुनाव किया गया।
इस मौके पर पार्टी के वरीय नेता डॉ. खगेन्द्र ठाकुर, के.डी. सिंह, सूर्यपत सिंह, कन्हाई माल पहाड़िया, इंद्रमणि देवी, मंजू गौतम, कृष्ण कुमार सहित कई लोग उपस्थित थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *