राजभर, अनुप्रिया की खत्म हुई नाराजगी !

यूपी में हाल में हुए उपचुनाव के बाद राज्य में बीजेपी के सहयोगी दलों का रुख बदल गया था। पहले ओपी राजभर उसके बाद अनुप्रिया पटेल ने बीजेपी पर अनदेखी के आरोप लगाए। बीजेपी नेतृत्व ने मामले की गंभीरता को भांपते हुए दोनों नेताओं से तुरंत मुलाकात कर उनके गिले-शिकवे सुने और नाराजगी को सुलझाने के आश्वासन दिए। बताया जा रहा है कि उसके बाद मामला पटरी पर आ गया है। दोनों नेताओं की नाराजगी दूर हो गई है। बता दें कि राज्यसभा चुनाव से ठीक पहले सूबे में सहयोगी दलों के बागी तेवर को देखते हुए पार्टी आलाकमान उन्हें मनाने में ही भलाई समझी।

बताया जा रहा है कि दिल्ली में मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ बैठक के बाद योगी सरकार में मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की नाराजगी खत्म हो गई और उन्होंने बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवारों को अपना समर्थन देने का ऐलान किया। हालांकि अब राजभर और मुख्यमंत्री योगी के बीच जिन मुद्दों को लेकर मतभेद बरकरार हैं उस पर लखनऊ में सुलह होगी। राजभर के बाद आज केंद्रीय मंत्री और 'अपना दल' की अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल ने अमित शाह से संसद भवन में संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार के ऑफिस में मुलाकात की।

मुलाकात में अनुप्रिया पटेल ने योगी सरकार के मंत्रियों से अपने विधायकों की शिकायत बारे में अमित शाह को अवगत कराया। अमित शाह ने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनके विधायकों की शिकायतों को दूर किया जाएगा। बता दें कि अमित शाह 10 अप्रैल को अपने यूपी दौरे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उपमुख्यमंत्रियों केशव प्रसाद मौर्या और दिनेश शर्मा, यूपी बीजेपी अध्यक्ष महेन्द्रनाथ पांडेय और संगठन मंत्री सुनील बंसल और यूपी के एनडीए की सहयोगियों के साथ बैठक करेंगे।

वहीं, हाल के दिनों में उपचुनावों में मिली हार से सबक लेते हुए बीजेपी अब अपने सहयोगियों को मनाने में जुट गई है। बीजेपी को अब उसके अपने सहयोगियों, विधायकों से लेकर कार्यकर्ताओं की याद आने लगी है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *