राजबब्बर का ‘अखलाक कार्ड’

- कांग्रेस को वोट दो, कोई फ्रीज खोलकर नहीं देख सकता

कांग्रेस ने एक बार फिर मुस्लिम तुष्टिकरण का दांव खेल दिया है। उत्तर प्रदेश में अपने वजूद को बचाने के लिए संघर्ष कर रही कांग्रेस को इसके आलावा कोई और रास्ता नहीं सूझ रहा है। अखलाक हत्यकांड एक बार फिर सियासी बयानबाजी का हिस्सा बना है। इस बार कांग्रेस ने अखलाक को चुनावी जनसभाओं का मुद्दा बनाया है। शुक्रवार को यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर ने अलीगढ़ की चुनावी सभा में हत्याकांड का जिक्र करते हुए जनता से अपनी पार्टी को वोट की अपील की है।

निकाय चुनाव के दूसरे चरण के प्रचार के दौरान राजबब्बर ने शुक्रवार को अलीगढ़ में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने जनता से वोट की अपील की। इतना ही नहीं विकास के नाम पर वोट मांगते-मांगते वो दादरी कांड तक पहुंच गए।

राजबब्बर ने जनसभा में मौजूद लोगों से कहा, 'आप कांग्रेस को वोट दीजिए, कोई आपका फ्रीज खोलकर नहीं देख सकता और न ही ये पूछ सकता कि उसमें क्या है। आप मुझे ताकत दो, मैं आपके लिए हथियार चलाऊंगा।'

दरअसल, सितंबर 2015 में ग्रेटर नोएडा के दादरी में अखलाक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। अखलाक पर घर में फ्रीज के अंदर गोमांस रखने का आरोप था। आरोप है कि इससे नाराज भीड़ ने अखलाक की पिटाई की, जिससे उनकी मौत हो गई।

इसी का उदाहरण देते हुए राजबब्बर ने अलीगढ़ में जनता से कांग्रेस को वोट देकर ये आश्वस्त होने के लिए कहा कि अगर वो जीतते हैं तो किसी के घर का फ्रीज नहीं खोला जाएगा। बता दें कि यूपी में निकाय चुनावों के दूसरे चरण का प्रचार शुक्रवार शाम थम गया। इस फेज के लिए 26 नवंबर को वोटिंग होनी है।

दूसरे चरण के तहत 25 जिलों में निकाय चुनावों के लिए मतदान होगा। ये जिले मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, अमरोहा, रामपुर, पीलीभीत, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, मैनपुरी, फर्रूखाबाद, इटावा, ललितपुर, बांदा, इलाहाबाद, लखनऊ, सुलतानपुर, अंबेडकर नगर, बहराइच, श्रावस्ती, सन्त कबीरनगर, देवरिया, बलिया, वाराणसी एवं भदोही हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *