राजस्थान : गहलोत गुट के 10-11 एमएलए पायलट के टच में,14 से पहले सियासी भूचाल होने की संभावना

राजस्थान में सियासी संग्राम जारी है.गहलोत गुट और पायलट गुट के एमएलए के बीच नहीं बन रही है.इस बीच सीएम गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्र से विधानसभा सत्र बुलाने के लिए आग्रह किया था,जिसपर राज्यपाल ने 14 अगस्त को विधानसभा बुलाने की अनुमति दे दी है. 14 तक गहलोत को अपने विधायकों को सहेज कर रखना होगा. शुक्रवार को गहलोत खेमे के विधायकों को जयपुर के होटल से शिफ्ट करके जैसलमेर ले जा रहे हैं।  जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खेमे के कई विधायक पायलट खेमे के साथ संपर्क में हैं और यही वजह है कि विधायकों को शिफ्ट किया जा रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, फिलहाल गहलोत खेमे के 10-11 विधायक पायलट खेमे के विधायकों के संपर्क में हैं।
सूत्रों के मुताबिक, जो विधायक पायलट खेमे से बात कर रहे हैं उनमें महेंद्र विश्नोई, प्रशांत बैरवा, इंद्र मीणा, उदय लाल अंजना, दानिश अबरार, चेतन डूडी और रोहित बोरा शामिल हैं। पायलट खेमे के विधायक अभी दिल्ली एनसीआर में ठहरे हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक, उनकी शिफ्ट होने की कोई योजना नहीं है। सूत्रों के मुताबिक, राजस्थान हाईकोर्ट में बीएसपी विधायकों पर याचिका पर फैसले के बाद ही पायलट खेमा आगे की रणनीति तय करेगा।

 इस बीच गहलोत खेमे के जिन विधायकों को जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट किया जा रहा है उनपर कड़ा पैहरा भी है। सूत्रों के मुताबिक, एसटीएफ के 100 पुलिसकर्मी उनकी पैहरेदारी कर रहे हैं और एक-एक विधायक पर नजर बनाए हुए हैं। विधायकों को लेकर बसें जयपुर के फेयरमाउंट होटल से निकलकर जैसलमेर के लिए रवाना हो चुकी हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *