बीजेपी की नहीं, जनता की सुनें कांग्रेस सांसदः राहुल

गुजरात चुनाव नतीजों के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भविष्य की रणनीति पर काम शुरू कर दिया है. गुजरात चुनाव में वहां की युवा तिकड़ी हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी के बाद राहुल ने अपनी पार्टी के युवाओं पर फोकस किया है. राहुल गांधी ने मंगलवार रात कांग्रेस पार्टी ने 9 युवा सांसदों से मुलाकात की. अध्यक्ष पद संभालने के बाद राहुल की यह ऐसी पहली मुलाकात है. इस मीटिंग में राहुल ने युवा सांसदों को भविष्य के लिए मंत्र भी दिया.

युवा सांसदों से मिठाई और कॉफी पर मीटिंग में राहुल ने कहा कि कांग्रेस की लड़ाई भले ही बीजेपी से है लेकिन पार्टी नेताओं को बीजेपी की नहीं बल्कि जनता की सुननी चाहिए. राहुल ने इस बात पर भी जोर दिया कि सांसदों को जनता की समस्याओं का निदान करना चाहिए. पार्टी के युवा सांसदों ने राहुल गांधी की तारीफ भी की. उन्होंने गुजरात चुनाव में बीजेपी को जमकर चुनौती देने के लिए सराहा. इस पर राहुल ने कहा कि लड़ने से ही जीत मिलती है. राहुल ने कहा कि उन्होंने गुजरात से यही सीखा है कि मेहनत करने से सफलता जरूर मिलती है, भले ही देर से मिले.

राहुल ने सांसदों को बीजेपी नेताओं के गुस्से का जवाब प्यार से देने का मंत्र देते हुए कहा कि उन्हें बीजेपी की सुनकर उनके एजेंडे में नहीं उलझना चाहिए. बैठक में 9 सांसदों ने राहुल गांधी को गुड लक के लिहाज से दो कॉफी कप भी दिए, जिसपर सभी सांसदों के दस्तखत भी हैं. अध्यक्ष बनने के बाद राहुल सबसे मुलाकात कर रहे हैं ताकि अनुपलब्ध रहने का ठप्पा उनपर न लगने पाए. वो एक ऐसे अध्यक्ष के रूप में खुद को दिखाना चाहते हैं जो पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के लिए हर वक्त हाजिर है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *