राफेल डील से सरकारी खजाने को पहुंचा भारी नुकसानः कांग्रेस

कांग्रेस मोदी सरकार को किसी भी हाल में छोड़ना नहीं चाहती है। अविश्वास प्रस्ताव के दौरान चर्चा करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर पीएम मोदी सहित रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को भी निशाने पर लिया था और रक्षा मंत्री पर देश का सामने झूठ बोलने का भी आरोप लगाया था। इस मुद्दे पर कांग्रेस ने आज दावा किया कि इस लड़ाकू विमान सौदे के संदर्भ में एक नामी भारतीय समूह की रक्षा कंपनी को कुल 1,30,000 करोड़ रुपए का कॉन्ट्रैक्ट मिला है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा करते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर निशाना साधा और उनपर देश से झूठ बोलने का आरोप लगाया।
सुरजेवाला ने कुछ दस्तावेज सामने रखते हुए कहा,‘‘राफेल सौदे की आए दिन खुलती परतें पीएम और रक्षा मंत्री द्वारा बोले गए झूठ की परतें खोल रही हैं। कल्चर ऑफ क्रोनी कैपिटलिज्म मोदी सरकार का डीएनए बन गयी है। इस सौदे से सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाए जाने की बू आती है।
सुरजेवाला ने दावा किया कि फ्रांस के साथ 36 राफेल विमान की खरीद का समझौता होने के बाद इस विमान सौदे से जुड़ा कॉन्ट्रैक्ट सरकारी कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) से लेकर एक निजी भारतीय समूह की रक्षा कंपनी को दिया गया जबकि यह कंपनी समझौते से 12 दिन पहले पंजीकृत हुई थी और उसके पास विमान बनाने का कोई अनुभव नहीं है। सुरजेवाला के मुताबिक इस निजी भारतीय कंपनी ने पिछले साल 16 फरवरी को बयान जारी कर कहा कि उसे राफेल से जुड़ा 30,000 करोड़ रुपए का ‘ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट’ और 1,00,000 एक लाख करोड़ रुपए का ‘लाइफ साइकल कॉन्ट्रैक्ट’ मिला है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *