बालू पर अस्त व्यस्त बिहार

बिहार में राजद और नीतीश सरकार के बीच घमासान लगातार जारी है। आज राजद ने सरकार की नई बालू नीति के खिलाफ बिहार बंद करवाया है। इस दौरान राजद कार्यकर्ताओं ने जहानाबाद-पटना रांची जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन को रोक दिया। राजद विधायक भाई वीरेंद्र की अगुवाई में कई जगहों पर कार्यकर्ताओं ने NH30 को जाम किया और दुकानों को बंद करवाया। कार्यकर्ताओं ने NH83 को भी बंद किया। राजद की नीतीश सरकार से मांग है कि बालू की नई नीति को सरकार वापस ले और जो आपूर्ति हुई है उसकी भरपाई सरकार जल्द से जल्द करे।

बालू के अवैध खनन को रोकने के लिए सरकार ने नया बिहार लघु खनिज अधिनियम 2017 बनाया है। जिसके प्रावधानों को लेकर जबरदस्त विरोध हो रहा है। सरकार ने पुराने सारे टेंडर रद्द कर दिए हैं, जिसकी वजह से राज्य में बालू की कमी हो गई है। बालू की कमी होने से राज्य में हो रहे निर्माण कार्य भी प्रभावित हुए हैं। राज्य सरकार द्वारा बिहार लघु खनिज उत्खनन अधिनियम 2017 में कई खामियां उजागर किए जाने के उपरांत पटना हाईकोर्ट द्वारा इसपर रोक लगा दी गई थी। साथ ही साथ पटना हाईकोर्ट ने खनन विभाग के प्रधान सचिव द्वारा अदालती आदेश के बाद भी निर्देश जारी किए जाने पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी।

वहीं ट्रांसपोर्टरों का कहना है कि जबतक सरकार पुरानी नीतियों को फिर से लागू नहीं करती है तब तक चक्का जाम रहेगा। ट्रांसपोर्ट मालिकों और मजदूरों का आरोप है कि नई नीति की वजह से उनके सामने भूखमरी की स्थिति पैदा हो गई है। पिछले महीने भी ट्रांसपोर्टरों ने सरकार की इस नीति के खिलाफ चक्का जाम किया था, लेकिन सरकार ने कोई नोटिस नहीं लिया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *