पारा शिक्षकों पर सरकार का रवैया ठीक नहीं- प्रदीप यादव

पारा शिक्षकों के मामले पर सरकार को घेरते हुए झाविमो नेता प्रदीप यादव ने कहा कि सरकार अपनी हठधर्मिता पर अड़ी हुई है, कुछ अधिकारियों ने जो सरकार को पढ़ाया है, जो बातें कही हैं, उन्हीं बातों की सरकार रट लगाए हुए है।

उन्होंने कहा कि अगर सरकार में थोड़ी भी संवेदनशीलता होती है तो कम से कम मुख्यमंत्री विधानसभा में पारा शिक्षकों पर हुए लाठी चार्ज को लेकर अफसोस जाहिर करते। कहते जो हुआ है, वह गलत हुआ है।

प्रदीप यादव ने कहा कि पारा शिक्षकों पर जिस प्रकार से लाठीचार्ज हुआ उसमें गर्भवती महिलाएं और कई पत्रकार घायल हुए। इस सब के बावजूद मुख्यमंत्री ने एक शब्द कुछ भी नहीं कहा और न ही उनकी मांगों पर विचार करना चाहते हैं।

झाविमो नेता ने कहा कि कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में भी मुख्यमंत्री ने इस पर कई बहाने बनाए, कहा कि पंचायती राज इसमें अड़चन है, जबकि ये कोई समस्या नहीं, पंचायती राज में यह व्यवस्था पहले से है। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक बड़ा बोझ इस सरकार पर पड़ेगा।



प्रदीप यादव ने कहा कि सरकार को दूसरे राज्यों ने इस मामले में जो नीति अपनाई है उसका अनुसरण करना चाहिए लेकिन ऐसा लगता है कि ये सरकार करना नहीं चाहती है। राज्य में आज पारा शिक्षकों का ही मामला नहीं है और कई सवाल अहम हो गए हैं। सभी सवालों को सरकार टाल रही है, चाहे स्कूल मर्जर की बात हो, आज राजस्वकर्मी तक हड़ताल पर हैं, रोजगार सेवक हड़ताल पर हैं। कोई इस सरकार से खुश नहीं है। लगता है कि विनाश काले विपरीत बुद्धि, वही कहावत इस सरकार के लिए देखने को मिल रहा है। लगता है कि यह सरकार अंतिम समय गिन रहा है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *