अपने कुकृत्यों पर परदा डाल रही सरकार: प्रदीप यादव

झाविमो नेता प्रदीप यादव ने मंगलवार को सरकार पर तीखा हमला किया है. उन्होंने कहा है कि सरकार जानबूझ कर सदन का शीतकालीन सत्र छोटा करना चाहती है. क्योंकि वह जनता के सवालों का जवाब नहीं देना चाहती है.

उन्होंने कहा कि मैंने सदन के सत्र को बढ़ाने का आग्रह किया है ताकि हम अपने जनता से जुड़े मुद्दों और मांगों को सदन के समक्ष रख सकें. प्रदीप यादव ने सरकार के नीतियों को जनविरोधी बताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री लाठी और गोली की बदौलत किसानों-गरीबों से औने-पौने दाम पर जमीन छीन रही है. पुलिस प्रशासन के बल पर लोगों में भय का माहौल बनाया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि सदन का सत्र छोटा करने के पीछे दरअसल सरकार की मंशा है कि किसी भी प्रकार वह अपने कुकृत्यों पर परदा डाल सके. सरकार के कई ऐसे जनविरोधी फैसले हैं. जिसपर सरकार घिरी हुई है. पंडरा में बसी आबादी को विस्थापित कर ट्रांसपोर्ट नगर बनाया जा रहा है. अक्षय पात्रा फाउंडेशन को गलत तरीके से मात्र एक रुपए में 62 एकड़ जमीन दी जा रही है. राज्य में युवाओं को एक ओर तो सरकारी नौकरी नहीं मिल रही है वहीं दूसरी ओर दरोगा की बहाली में भी उम्र सीमा कम कर दी गयी है. इससे कई उम्मीदवार इस प्रतियोगी परीक्षा से बाहर हो गए हैं. लेकिन सरकार इन सभी सवालों से भाग रही है. राज्य में एक तरफ बेरोजगारी और पलायन बड़ी समस्या है वहीं भूख से हो रही मौत ने हम सभी को झकझोर दिया है.

उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने फैसले से जनता को इतना हैरान परेशान कर दिया है कि उसके पास अपने बचाव के लिए कोई रास्ता ही नहीं बचा है. इसलिए जनता के सवालों से भाग रही है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *