इंतज़ार कीजिए अभी कितनी टूट और होगीः तेजस्वी

बिहार में सियासत पूरी तरह गरमा गया है, चुनाव आयोग ने शुक्रवार को उपचुनाव की जैसी ही घोषणा की अचानक सूबे में राजनीतिक हलचल तेज हो गई। राजद नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसा है और कहा है कि आगामी दिनों में जेडीयू को बड़ा झटका लगने वाला है। उनका इशारा बिहार में एक लोकसभा और दो विधान सभा सीट पर होने वाले उप चुनाव को लेकर है। जिससे पहले ही नीतीश कुमार को झटका लगा है। जोकीहाट से जदयू विधायक सरफराज आलम ने पार्टी और विधायकी से इस्तीफा दे दिया। इसी पर तंज कसते हुए तेजस्वी ने सोशल मीडिया पर लिखा है, “नीतीश कुमार के एक और एमएलए ने जदयू से दिया इस्तीफ़ा। इंतज़ार कीजिए अभी कितनी टूट और होगी। तेजस्वी तो बच्चा है ना जी!”

माना जा रहा है कि सरफराज आलम अररिया संसदीय सीट से उपचुनाव लड़ेंगे। राजद सांसद तस्लीमुद्दीन के निधन से ये सीट खाली हुई है। गौर करने वाली बात है कि सरफराज आलम दिवंगत सांसद तस्लीमुद्दीन के ही बेटे हैं। तस्लीमुद्दीन राजद के बड़े नेताओं में एक थे। बता दें कि राज्य में 11 मार्च को अररिया लोकसभा सीट के साथ-साथ जहानाबाद और कैमूर विधान सभा सीट पर भी उप चुनाव होने हैं। 14 मार्च को नतीजे आएंगे। जहानाबाद से राजद विधायक मुंद्रिका सिंह यादव और भभुआ से भाजपा विधायक आनंद भूषण पांडेय के निधन से ये सीटें खाली हुई हैं।

तेजस्वी ने कल भी नीतीश पर निशाना साधा था और लिखा था, “नीतीश कुमार बतायें उनकी पार्टी में बार-बार टूट क्यों होती है? राजद को पारिवारिक पार्टी बताने वाले तोते यह सच्चाई नहीं जानते कि राजद में से टूटकर आजतक कोई नई पार्टी नहीं बनी है। नीतीश कुमार कभी अपनी पार्टी का विलय करते है तो कभी उनकी पार्टी टूट जाती है।” दूसरे ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा था, “नीतीश जी ने अपने Payroll पर अज्ञानी लोगों की फ़ौज रखी हुई है। जदयू मे से दो पार्टी रालोसपा और हम बनी है। इनके पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत देशभर के 4 सांसद और 2 विधायक/MLC नीतीश जी को खरी-खरी एवं कड़ी-कड़ी सुनाकर पार्टी छोड़ और तोड़ चुके है पर ये अज्ञानी राजद में टूट की बात करते है।”

माना जा रहा है कि नीतीश कुमार की पार्टी के अंदर सबकुछ सामान्य नहीं चल रहा है। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और कभी नीतीश के काफी करीब रहे उदय नारायण चौधरी और श्याम रजक सरीखे नेता अब खुलकर पार्टी आलाकमान के खिलाफ बोल रहे हैं। उदय नारायण चौधरी तो लालू यादव से रांची की जेल में जाकर मुलाकात भी कर चुके हैं। उधर, जदयू से ही अलग होकर बनी नई पार्टी ‘हम’ के वृशिन पटेल भी लालू से मुलाकात कर चुके हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *