सूबे के 252 एसटी बाहुल्य गांवों की बदलेगी तस्वीर

-मुख्यमंत्री ने कहा योजनाओं पर हो सौ फीसदी काम

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि ग्राम स्वराज अभियान की मूल संवेदना है विकास। 14 अप्रैल से 05 मई 2018 तक राज्य के 21 जिलों के अनुसूचित जाति बाहुल्य 252 गांवों में विकास का अभियान चलेगा। चयन की गई योजनाओं का शतप्रतिशत कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाएगा। अभियान के महत्वपूर्ण तिथियों पर होने वाले कार्यक्रमों में स्थानीय सांसद, विधायक एवं जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर उन्हें भी इस अभियान से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा, “मैंने भी सभी सांसदों एवं विधायकों को पत्र के माध्यम से अभियान से जुड़ने की अपील की है”। मुख्यमंत्री ने आज झारखण्ड मंत्रालय में एक उच्च स्तरीय बैठक कर ग्राम स्वराज अभियान के तैयारियों की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान का उद्देश्य हमेशा ध्यान में रखें और उसी के अनुसार इसे संचालित करें। 14 अप्रैल को प्रधानमंत्री के संबोधन का सीधा प्रसारण सभी गांवों में सुनिश्चित किया जाए। साथ ही 18 अप्रैल को स्वच्छ भारत दिवस के तहत राज्य और जिले के गणमान्य लोग, जनप्रतिनिधि, खेल और कला के विशिष्ट उपलब्धियां हासिल किए हुए लोगों को जोड़कर स्वच्छता कार्यक्रम चलाएं। मीडिया को भी प्रेस सम्मेलन तथा अन्य माध्यमों से जोड़ें। मुख्यमंत्री ने एलपीजी कनेक्शन के बावत समीक्षा करते हुए इन गांवों में लम्बित लगभग 50 हजार परिवारों को गैस कनेक्शन दिया जाना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। सीएम कहा कि अभियान के अंत तक इन गांवों में लंबित 10 हजार 300 शौचालय का निर्माण सुनिश्चित करें। जागरूकता के लिए प्रदर्शनी लगाई जाए तथा आम लोगों की भागीदारी अधिक से अधिक सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि इस अभियान के दौरान एलईडी बल्ब की कीमत 50 रुपए है यह बात पूरी तरह प्रचारित की जाए। चिन्हित गांवों में विद्युतीकरण का कार्य शतप्रतिशत पूरा किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी विभाग के प्रमुख अपने विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रतिदिन मॉनिटरिंग करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के 68 लाख परिवारों में से, 57 लाख परिवारों को नमो केयर अर्थात आयुष्मान भारत की स्वास्थ्य बीमा से आच्छादित किया जाना है। नमो केयर राज्य की गरीब जनता तक स्वास्थ्य बीमा को पहुंचाने का सीधा माध्यम है। पैसे के अभाव में स्वास्थ्य सुविधा से कोई परिवार वंचित न रहे। इसके लिए परिवार चिन्हित करने का कार्य पूरा कर लिया जाए। उन्होंने कहा, “ग्राम स्वराज अभियान के तहत सामाजिक न्याय दिवस पर 14 अप्रैल को मैं स्वयं चतरा में आयोजित कार्यक्रम में भाग लूंगा”। मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि सांसद, विधायक, जनप्रतिनिधि एवं अधिक से अधिक लोगों, सखी मंडलों सहित समाज के सभी वर्गों को जोड़ कर इस अभियान को सच्चे अर्थों में सफल बनाने के लिए कार्य करें।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *