बिहार की सर्वश्रेष्ठ राजनीतिक पाठशाला चुनाव के लिए तैयार

पटना विश्वविद्यालय में छात्र संघ का चुनाव नवम्बर में

बिहार की राजनीति की पाठशाला कहे जानेवाले पटना विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनाव चुनाव की तैयारी शुरू हो गयी है | बिहार को लालू, नीतीश, सुशील मोदी, नरेंद्र सिंह, अश्विनी चौबे जैसे दर्जनों नेता देने वाले पटना यूनिवर्सिटी में 5 साल बाद छात्र संघ चुनाव होने से छात्र संगठनों के नेता भी बेहद उत्साहित हैं | छात्र संगठनों के भावी नेता अभी से स्टूडेंट्स का मूड भांपकर अपनी रणनीति तैयार कर रहे हैं |

इस सम्बन्ध में पटना यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर डॉ रासबिहारी सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय के शताब्दी वर्ष में छात्र संघ का चुनाव कराकर मुझे बेहद खुशी होगी | डॉ रासबिहारी सिंह ने बताया कि 27 वर्ष बाद 5 साल पहले ये चुनाव हुए थे | डॉ सिंह ने कहा कि सारी तैयारी हो चुकी है | 10 दिनों के अंदर शिक्षकों की कमेटी बन जाएगी और छात्र संगठन के नेताओं को भी विचार विमर्श के लिए बुलाया जायेगा | उन्होंने कहा कि नवम्बर के आखिरी सप्ताह या दिसम्बर के पहले सप्ताह में चुनाव करा लिया जायेगा |

पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में पुरे बिहार की दिलचस्पी होती है | राजधानी होने के चलते इन चुने गए युवा नेताओं की बातों को गंभीरता से सुना जाता है | बिहार में लालू, नीतीश और मोदी की पीढ़ी यूँ भी रिटायरमेंट के ऐज पर है, इसलिए नए छात्र नेताओं के लिए आगे बढने के रास्ते काफी हैं |

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *