बगैर झामुमो झारखण्ड में बनेगा महागठबंधन

भाजपा के मिशन 2019 को टक्कर देने के लिए महागठबंधन की पहल को तेज करने की जरूरत पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने जोर दिया है. उन्होंने कहा है कि देश के प्रमुख 22 दलों का गठबंधन बने इसकी कवायद की जा रही है. उन्होंने कहा की झारखण्ड में भी मजबूत गठबंधन बनेगा. कांग्रेस, झामुमो, झाविमो और वाम समेत विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठकर इसके लिए खास रणनीति बनायी जाएगी.

झाविमो विधायक दल के नेता प्रदीप यादव ने लालू प्रसाद से मुलाकात कर महागठबंधन के कयास को बल दिया है. प्रदीप यादव ने स्वीकार किया है कि झारखण्ड में महागठबंधन जरूरी है. कहा है कि इसके लिए सभी विपक्षी दलों को एक साथ बैठकर रणनीति बनानी होगी. हालांकि, झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल ने भी लालू प्रसाद से मिलकर पहले ही इसकी शुरुआत कर दी है. पर इसके साथ ही अन्य दलों को भी एक मंच पर आकर सरकार की नीतियों के खिलाफ हल्ला बोलना होगा.

हाल ही में झामुमो नेता हेमंत सोरेन के बयान के बाद राजनीतिक हलकों में यह बहस शुरू हो गयी है कि गठबंधन बनने से पहले ही गांठ पड़ने लगी है. इससे भाजपा के खिलाफ घेराबंदी का प्रयास कमजोर पड़ सकता है.

राजनीतिक जानकारों की मानें तो लालू प्रसाद झारखण्ड में महागठबंधन को शक्ल देने की भरपूर कोशिश कर रहे हैं. और अपने प्रभाव के बलबूते सारे विपक्ष को एकजुट करने में सफल होंगे. इसलिए झामुमो हो या कांग्रेस, हर दल के नेता के साथ कैसे राजनीतिक समीकरण बनाकर इस गठजोड़ को मजबूत किया जाय. यह वह बखूबी जानते हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *