बंद के दौरान विपक्ष एकजुट, कांग्रेस में दिखी गुटबाजी

भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के खिलाफ पूरा विपक्ष एकजुट दिखा, राजधानी रांची सहित पूरे राज्य में सभी दलों के नेता और कार्यकर्ता सरकार की नीतियों के विरोध में सड़क पर उतरे। लेकिन इस दौरान कांग्रेसी नेताओं की गुटबाजी साफ-साफ नजर आई। प्रदेश के दो दिग्गज नेताओं ने अपने समर्थकों के साथ अलग-अलग मार्च निकाला।
कांग्रेस मुख्यालय से मार्च करते हुए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डॉक्टर अजय कुमार और कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम एक साथ अपने समर्थकों को लेकर अल्बर्ट एक्का चौक पहुंचे। वहीं कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय और पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत अपने कुछ कार्यकर्ताओं के साथ अलग से अल्बर्ट एक्का चौक पहुंचे।
वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष के साथ वही लोग थे जिन्हें उन्होंने प्रदेश कांग्रेस में अलग-अलग जिम्मेदारी दे रखी है जबकि सुबोधकांत और सुखदेव भगत के साथ वैसे लोग थे जिन्हें पार्टी में अलग-थलग कर दिया गया है।
कांग्रेस के दोनों गुट के नेताओं ने अल्बर्ट एक्का चौक पर अलग-अलग जगह पर रघुवर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बाद में पुलिस ने कांग्रेस के सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर कैंप जेल भेज दिया।
लिहाजा भूमि अधिग्रहण संशोधन के खिलाफ विपक्ष तो एकजुट है लेकिन कांग्रेस में गुटबाजी है और इससे पार्टी कैसे निपटती है ये आने वाले दिनों में देखना दिलचस्प होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *