बिहार को बदनाम करने में लगा है विपक्ष- सुशील मोदी

बिहार में कानून व्यवस्था की बदहाल स्थिति को लेकर विपक्ष नीतीश सरकार पर रोज हमले कर रहा है। कहा जा रहा है कि राज्य में हत्या, लूट और दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। वहीं, डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने विपक्ष पर पलटवार किया है उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियां जानबूझकर बिहार का नाम बदनाम कर रही हैं।

सोशल मीडिया के जरिए निशाना साधते हुए उन्होंने कहा है कि सामान्य अपराध के साथ-साथ नक्सली वारदात पर अंकुश लगाने में भी राज्य सरकार को अच्छी सफलता मिली, जिससे बिहार में नक्सली हिंसाग्रस्त राज्यों में गो पायदान खिसक कर 5वें नंबर पर आ गया। 2016 की 100 और 2017 की 71 नक्सली वारदात के मुकाबले इस साल अब तक केवल 25 घटनाएं हुईं। बड़े नक्सली नेताओं की संपत्ति जब्त की गई। दूसरी तरफ कांग्रेस पीएम नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने में लगे नक्सलियों से हमदर्दी दिखा रही है। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि बताएं कि कांग्रेस हिंसा की राजनीति का साथ क्यों दे रही है।

सुशील मोदी ने दूसरे ट्विट उन्होंने लिखा है कि राजद की भागीदारी वाली महागठबंधन सरकार गिरने और कानून का राज स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध एनडीए सरकार की वापसी से पिछले एक साल में अपराध पर लगाम लगाने में बड़ी कामयाबी मिली है। अक्टूबर 2017 से आपराधिक मामलों की मॉनिटरिंग कर इस साल अगस्त तक कुल 1 लाख 77 हजार 448 लोगों की गिरफ्तारी की गई। अच्छी पुलिसिंग से अपहरण में 13.9 फीसद, दुष्कर्म की घटनाओं में 31.82 फीसद और दलितों के विरद्ध अपराध के मामलों में 12.18 प्रतिशत की कमी आई है।

उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा है कि बिहार को बदनाम करने के लिए विपक्ष केवल चुनिंदा घटनाओं को हवा देता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *