पेट्रोल- डीज़ल की कीमतों में बढ़ोतरी पर एनएसयूआई ने बैलगाड़ी की सवारी कर केंद्र सरकार का किया विरोध

पेट्रोल- डीज़ल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी पर एन.एसयूआई ने बैलगाड़ी की सवारी कर केंद्र सरकार का विरोध किया.एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष इंदरजीत सिंह के नेतृव में बुधवार को बैल गाड़ी, भैस  के साथ बिरसा चौक पर विरोध प्रदर्शन किया गया। विदित हो कि एनएसयूआई के द्वारा पूरे देश भर में विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम जारी है। इंदरजीत सिंह ने कहा कि पूरा देश कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहा है, ऐसे में केन्द्र सरकार मुनाफाखोरी कर रही है।महंगाई का नारा देकर सत्ता में आने वाली बीजेपी नागरिकों से जबरन वसूली कर रही है। वो भी तब जबकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें लगातार गिर रही है। कोरोना संकटकाल में देश का किसान, मजदूर, नौजवान, पहले ही समस्याओं से जूझ रहा है। इस बीच केन्द्र सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क और मूल्य वृद्धि से लोगों की मुश्किलें बढ़ी हुई हैं। लॉक डाउन में जहाँ लोगों को दो वक़्त की रोटी जुटा पाना मुश्किल हो गया है ऐसी स्थिति में पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी केंद्र सरकार की विफलता है।एक तरफ कोरोना महामारी और दूसरी तरफ मंहगाई की मार। पेट्रोल डीज़ल की कीमतें बढ़ाकर ये सरकार पूरे देश को लूट रही है। केंद्र सरकार पेट्रोल एवं डीजल पर अतिरिक्त टैक्स वसूल कर आर्थिक समस्या से जूझ रही जनता पर मानसिक तथा आर्थिक महंगाई का वज्र प्रहार कर रही है। इधर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों की वजह से आम जनता को अनावश्यक महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। सभी प्रकार की वस्तुओं का ट्रांसपोर्ट खर्च बढऩे से वे और महंगी हो गई हैं। ऐसे में देशवासियों की आर्थिक स्थिति बद् से बद्तर हो रही है। प्रदेश उपाध्यक्ष इंदरजीत सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार व पीएम मोदी को यह याद दिलाना चाहते हैं कि चुनाव से पहले देशवासियों से किया वादा कि जब भाजपा की सरकार बनेगी तो पेट्रोल-डीजल के दाम 30 से 35 रुपए के बीच होंगे। फिलहाल कच्चे तेल का मूल्य भी बहुत कम है, ऐसे में ईंधन का मूल्य आपके पूर्व वादों के अनुसार होना चाहिए। NSUI इस विरोध प्रदर्शन के माध्यम से पेट्रोल-डीजल के दामों और उत्पाद शुल्क में हुई बढ़ोतरी को वापस लिए जाने की मांग करती है। मौके पर आकाश रजवार, अमन यादव,आमिर, अब्दुल राबनवाज, प्रणव,शिव, पंकज, आकाश, प्रभात कुमार, आनंद, बबलू, गौतम, नारायण, राजू,माणिक,उपस्थित थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *