समाज को बांटनेवाले और भ्रष्टाचारी बर्दाश्त नहीं: नीतीश

बिहार में हुए उपचुनाव के बाद सीएम नीतीश कुमार ने बड़ा बयान दिया है। नीतीश ने भी लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान के दिए बयान का समर्थन किया है। कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार बीजेपी की कार्यशैली से खुश नहीं हैं। पिछले साल लालू प्रसाद से अलग होने और कांग्रेस से भी किनारा करने के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि देश आगे तभी बढ़ सकता है जब देश में प्रेम, सहनशीलता और सद्भावना होगी। इसी के साथ नीतीश ने केंद्रीय मंत्री रामिवलास पासवान के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि अगर उन्होंने कुछ कहा है तो बिना सोचे समझे नहीं कहा होगा।

बीजेपी पर हमला बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि ध्यान रखें, मैं न ही भ्रष्टाचार का साथ दूंगा, न ही मैं उन लोगों को बर्दाश्त कर सकता हूं जो समाज को बांटने की राजनीति कर रहे हैं। मैं ये साफ कर देना चाहता हूं कि पूरी तरह से कम्यूनल और सामाजिक शांति के साथ हूं। मैं मानता हूं कि देश आगे तभी बढ़ सकता है जब देश में प्रेम, सहनशीलता और सद्भावना बनी रहे। इसी के साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान की बात का समर्थन करते हुए कहा कि मैं कैसे कहूं कि बीजेपी को क्या करना चाहिए, मैं बीजेपी में तो हूं नहीं। हां, गठबंधन की सरकार जरूर चल रही है।

नीतीश कुमार ने आगे कहा कि रामविलास पासववान कुछ बोल रहे हैं तो बिना सोचे समझे तो बोलेंगे नहीं। इस विषय पर उनसे बात हो चुकी है और बिहार में सभी डॉक्यूमेंट्स पर काम हो रहा है, अल्पसंख्यक कल्याण के लिए काम किया जा रहा है।

बता दें कि उपचुनाव के परिणाम के रामविलास पासवान ने बीजेपी को नसीहत देते हुए कहा था कि बिहार और उत्तरप्रदेश के उपचुनाव के परिणामों को देखते हुए बीजेपी को समाजिक समीकरण पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा था कि अल्पसंख्यक विरोधी धारणा बदलनी होगी। उनकी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी सामाजिक न्याय और धर्मनिपेक्षता से समझौता नहीं कर सकती है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *