पीएम मोदी ने मेरे संघर्षों का किया सम्‍मान: पप्‍पू यादव

जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने मधेपुरा रेल कारखाने में निर्मित देश के सबसे शक्तिशाली 12 हजार हॉर्स पॉवर वाले रेल विद्युत इंजन को राष्ट्र को समर्पित करने और कटिहार स्टेशन से चंपारण ‘हमसफर एक्सप्रेस’ को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभार जताया है। उन्‍होंने पत्रकारों से कहा कि मधेपुरा रेल कारखाने की शुरुआत से कोसी का आर्थिक रूप से कायाकल्‍प हो जाएगा, जबकि चंपारण हमसफर एक्‍सप्रेस की शुरुआत से सीमांचल व कोसीवासियों के लिए दिल्‍ली का सफर आसान हो जाएगा।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोतिहारी में आयोजित चंपारण सत्याग्रह शताब्‍दी समारोह स्‍थल से वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के माध्‍यम से मधेपुरा रेल कारखाना का उद्घाटन और कटिहार से चंपारण हमसफर एक्‍सप्रेस को रवाना किया। सांसद पप्पू यादव ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मधेपुरा विद्युत रेल इंजन का उद्घाटन कर उनके संघर्षों का सम्‍मान किया है। चंपारण हमसफर एक्‍सप्रेस की शुरुआत से कोसी और सीमांचल वासियों का सपना साकार हुआ है। उन्‍होंने कहा कि इसके साथ ही कोसी की जनता की अपेक्षाएं और बढ़ गयी हैं। इन अपेक्षाओं को पूरा करने की जिम्‍मेवारी भी केंद्र सरकार की बन गयी है।

श्री यादव ने कहा कि आज आर्थिक समृद्धि और दिल्‍ली की ओर जाने के लिए कोसी और सीमांचल ने मजबूत कदम बढ़ाया है। मधेपुरा रेल विद्युत इंजन कारखाने के औपचारिक उद्घाटन के बाद कोसीवासियों के लिए उम्‍मीदों की राह खुल गयी है। इससे रोजगार के अवसर के साथ ही विकास के कई विकल्‍प स्‍वत: बनने लगेंगे। उन्‍होंने कहा कि मधेपुरा रेल फैक्‍ट्री की जरूरतों के लिए सरकार स्‍वभाविक रूप से रेल नेटवर्क को मजबूत करेगी और नयी-नयी रेललाइनों का विस्‍तार करेगी। इसके साथ ही सड़क परिवहन को भी ज्‍यादा सुलभ और बेहतर बनाया जाएगा।

श्री यादव ने कहा कि चंपारण हमसफर एक्‍सप्रेस ने यातायात को सुलभ बनाने के साथ ही कोसी और सीमांचल के लिए देश के अन्‍य हिस्‍सों में जाने का आसान मार्ग प्रशस्‍त किया है। उन्‍होंने कहा कि मधेपुरा रेल विद्युत इंजन कारखाना और चंपारण हमसफर एक्‍सप्रेस की शुरुआत कराने में उनकी भूमिका महत्‍वपूर्ण रही है। सांसद ने लगातार प्रधानमंत्री, रेलमंत्री और राजमार्ग मंत्री से मिलकर कोसी के लिए अधिकाधि‍क बजटीय प्रावधान कराने का प्रयास किया और इसका परिणाम सामने है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *