मणिशंकर के अधूरे बयान पर ‘खेल गए’ पीएम मोदी

एक तरफ कांग्रेस पार्टी पूरे दमख़म से गुजरात चुनाव में बीजेपी को टक्कर दे रही है. राहुल हर दिन पीएम मोदी को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश कर रहे हैं, दूसरी तरफ कांग्रेस में पार्टी अध्यक्ष पद पर राहुल गांधी की ताजपोशी की तैयारी जारी है. जिसे लेकर पूरी कांग्रेस में जश्न का माहौल दिखाई दे रहा है. लेकिन इस बीच कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का ऐसा बयान आया है, जिसने राहुल की ताजपोशी पर बीजेपी को तंज कसने का एक और मौका दे दिया है.

दरअसल, सोमवार को नई दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में जब राहुल गांधी के नामांकन की प्रक्रिया को अंजाम दिया गया, उसी दौरान पार्टी दफ्तर के बाहर कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने राहुल की ताजपोशी पर मीडिया से मुखातिब हुए. इस दौरान जब उनसे कांग्रेस में डायनेस्टी पॉलिटिक्स पर शहजाद पूनावाला के आरोप को लेकर सवाल किया गया तो वे मुगल शासकों का उदाहरण देने लगे. जिसे पीएम मोदी ने गुजरात में चुनावी भाषण के तौर पर इस्तेमाल कर लिया.

वंशवाद के सवाल पर मणिशंकर अय्यर ने अपने जवाब में कहा है, 'जब जहांगीर की जगह शाहजहां आए, तब कोई चुनाव हुआ? जब शाहजहां की जगह औरंगजेब आए, तब कोई चुनाव हुआ? नहीं, क्योंकि पहले से पता था कि जो भी बादशाह है उनकी औलाद ही बनेंगे, लेकिन लोकतंत्र में चुनाव होता है और शहजाद पूनावाला को मैं आमंत्रण देता हूं कि वो आकर चुनाव लड़ें.'

पीएम मोदी ने अपनी रैली में इस बयान का हवाला देते हुए राहुल के नामांकन पर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस नेता खुद मानते हैं कि ये पार्टी नहीं, ये कुनबा है. उन्हें ये औरंगजेब राज मुबारक हो.'

पीएम मोदी ने जब अय्यर के बयान को मंच से पढ़ा तो अय्यर ने सफाई में कहा कि पीएम मोदी ने उनके बयान को ट्विस्ट दिया है. मणिशंकर अय्यर ने कहा, 'वंशवाद तब होता है जब चुनाव नहीं होता और राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए चुनाव हो रहा है और कोई भी उम्मीदवार यहां चुनाव लड़ सकता है.' जबकि पीएम मोदी ने अपने भाषण में अय्यर के मुगल शासक में गद्दी मिलने वाले बयान को प्रमुखता से रखा.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *