जेल में लालू को मिलेगा बेड-टीवी-मच्छरदानी और अखबार

चारा घोटाले में दोषी करार देने के बाद लालू यादव को फौरन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. उन्हें रांची के बिरसा मुंडा जेल ले जाया गया है. यहां लालू यादव को वीआईपी कैदियों की तरह रखा जाएगा. लालू यादव को यहां अपर डिवीजन सेल में रखा जाएगा. लालू यादव को जेल में वीआईपी सुविधाएं मिलेंगी. यानि जेल में उनके लिए अलग कक्ष होगा, जिसमें एक बेड, मच्छरदानी, टीवी होगी. इसके अलावा रोजाना सुबह उन्हें अखबार दिया जाएगा.

जेल में लालू यादव को भोजन बनाने की भी सुविधा मिलेगी. लालू चाहेंगे तो वे बाहर से भी खाना मंगा सकते हैं. फिलहाल उन्हें कैदी नंबर अलॉट नहीं किया गया. कल कैदी नंबर अलॉट हो सकता है. पिछली बार की तरह उन्हें सुविधाएं नहीं मिलेगी. लालू यादव को जेल ले जाने के दौरान उनके साथ आरजेडी की दर्जनभर गाड़ियां भी थीं. चाईबासा मामले में दोषी करार होने पर लालू यादव को 3 अक्टूबर 2013 को इसी जेल में लाया गया था. 13 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट से उन्हें जमानत मिल गई थी. इस बार भी उन्हें इसी जेल में रखा जाएगा. 3 तारीख को लालू यादव को सजा सुनाई जाएगी.

लालू यादव समेत कुल 22 लोग देवघर चारा घोटाले में आरोपी थे, जिसमें से 16 आरोपियों को दोषी करार दिया गया है, जबकि बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा और ध्रुव भगत समेत 6 लोगों को बरी कर दिया गया है. दोषी करार देने के बाद लालू ने ट्वीट करते हुए लिखा कि बीजेपी अपनी विफल नीतियों से ध्यान भटकाने के लिए बदले और बैर की भावना से विपक्षियों की छवि बिगाड़ रही है. उन्होंने लिखा कि लालू परास्त होने वाले नहीं है.

लालू के वकील चितरंजन प्रसाद ने बताया कि इस मामले में यदि लालू और अन्य को दोषी ठहराया जाता है तो उन्हें अधिकतम सात साल और न्यूनतम एक साल की कैद की सजा होगी. हालांकि, सीबीआई अधिकारियों के मुताबिक, इस मामले में गबन की धारा 409 के तहत 10 साल और धारा 467 के तहत आजीवन कारावास की भी सजा हो सकती है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *