लालू से जुड़े दुमका ट्रेजरी मामले में सुनवाई टली

राजद सुप्रीमो लालू यादव से जुड़े चारा घोटाले के चौथे मामले की गुरुवार होने वाली सुनवाई टल गई है। सीबीआई की विशेष कोर्ट दुमका कोषागार मामले में आज फैसला सुनाने वाली थी, लेकिन लालू यादव द्वारा दाखिल किए गए एक आवेदन के कारण फैसला टाल दिया गया। अब इस मामले पर शुक्रवार को सुनवाई की जाएगी। दुमका कोषागार मामले में लालू प्रसाद यादव, जगन्नाथ मिश्र समेत 31 लोगों को आरोपी बनाया गया है।

जानकारी के अनुसार लालू यादव ने कोर्ट में आवेदन देकर अपील की है कि चारा घोटाला मामले में तत्कालीन महालेखाकार पीके मुखोपाध्याय को भी आरोपी बनाया जाए। लालू यादव का कहना है कि जब वर्ष 1991 से लेकर 1995-96 तक पशुपालन विभाग में अवैध निकासी हुई, तो महालेखाकार ने कैग रिपोर्ट में उसकी चर्चा तक नहीं की। ऐसे में चारा घोटाले को आगे बढ़ाने में महालेखाकार भी जिम्मेदार हैं।

गौरतलब है कि लालू यादव चारा घोटाले के कुल 6 मामलों में आरोपी हैं, जिनमें से 3 मामलों में फैसला आ चुका है और लालू यादव को दोषी ठहराया जा चुका है। साल 2013 में पहले मामले में लालू यादव को 5 साल की सजा सुनायी गई थी। 23 दिसंबर, 2017 को दूसरे मामले में साढ़े तीन साल और इसी साल 24 जनवरी को चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी के तीसरे मामले में लालू यादव को पांच साल की सजा सुनायी जा चुकी है। आज चौथे मामले में फैसला आना था, लेकिन सुनवाई टाल दी गई है। लालू यादव फिलहाल रांची की बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं। दुमका कोषागार मामले के बाद लालू यादव को पटना और रांची मामलों में भी सुनवाई का सामना करना है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *