दुमका ट्रेजरी मामले में 15 मार्च को सुनाई जाएगी लालू को सजा

चारा घोटाला के दुमका कोषागार मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू के खिलाफ सोमवार को सुनवाई पूरी कर ली है। अदालत ने इस मामले में 15 मार्च को फैसला सुनाये जाने की तिथि निर्धारित की है। दुमका कोषागार से करीब 13.13 करोड़ रुपये अवैध निकासी से जुड़े इस मामले में लालू प्रसाद समेत अन्य को आरोपी बनाया गया है। सीबीआई की विशेष अदालत में लालू प्रसाद यादव समेत अन्य आरोपियों की वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पेशी हुई। अदालत ने कानूनी बिन्दुओं पर बहस के लिए तिथि निर्धारित करते हुए बचाव पक्ष को साक्ष्य प्रस्तुत करने का आज अंतिम मौका दिया और फैसले की तिथि 15 मार्च निर्धारित की है।

गौरतलब है कि लालू प्रसाद यादव को सीबीआई की विशेष अदालत ने देवघर कोषागार से अवैध निकासी से जुड़े मामले में 23 दिसंबर को ही दोषी करार दिया था और इस केस में 6 जनवरी को उन्हें साढ़े तीन साल कारावास और 10 लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनायी थी, वहीं चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी से जुड़े एक अन्य मामले में 24 जनवरी को अदालत ने लालू प्रसाद को दोषी करार देते हुए 5 साल कारावास व 10 लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनायी थी। इससे पहले वर्ष 2013 में भी चाईबासा कोषागार से जुड़े एक अन्य मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने उन्हें 5 साल की सजा सुनायी थी। उन्हें इस मामले में उच्चतम न्यायालय से जमानत मिल गयी थी। ज्ञातव्य हो कि लालू प्रसाद पर चारा घोटाले से जुड़े सात मामले दर्ज हैं, जिसमें तीन मामलों में सजा सुनायी जा चुकी है और चौथे मामले में फैसले की तिथि निर्धारित कर दी गयी है। वहीं डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी से जुड़े मामले में भी सीबीआई की विशेष अदालत में रोजाना सुनवाई हो रही है। दो अन्य मामलों की सुनवाई पटना स्थित सीबीआई की विशेष अदालत में हो रही है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *