बुलेट ट्रेन चलाएंगे, पुराना ट्रैक तो सुधर नहीं रहा : लालू यादव

सीबीआई कोर्ट में पेशी के लिए रांची पहुंचे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने देश में बुलेट ट्रेन की तैयारी पर चुटकी ली। लालू ने कहा कि देश में बुलेट ट्रेन चल ही नहीं सकती। वो तो जापान को अपना सामान बेचना है इसलिए वो बुलेट ट्रेन की बात कर रहा है। शुक्रवार को पेशी के बाद मीडिया से मुखातिब लालू यादव ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार पुरानी ट्रैक तो सुधार नहीं पा रही है और बात बुलेट ट्रेन की कर रही है। हमारे यूपीए सरकार में तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह ने जापान से थर्ड लाइन के लिए पैसा मांगा तो जापान ने नहीं दिया। आज उसे अपना सामान बेचना है तो वो बुलेट ट्रेन की बात करने लगा है।

लालू प्रसाद ने अमित शाह के दौरे को लेकर तंज कसा और कहा कि अमित शाह का स्वागत राष्ट्रपति की तरह किया जा रहा है। अमित शाह को रांची की गलियां घूमनीं चाहिए, तब सरकार के कामों की असलियत सामने आएगी। लालू ने रांची में बनने वाले स्मार्ट सिटी पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि रांची शहर की हालत बहुत खराब है। ऐसे में स्मार्ट सिटी क्या बनेगा, यह सब जानते हैं। अमित शाह शहर घूम लेंगे तो उन्हें यहां की स्मार्ट सिटी का सच पता चल जाएगा।

इस दौरान लालू यादव ने बिहार सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जेल में तो नीतीश कुमार और सुशील मोदी जाएंगे। हमारे बच्चों को तो जानबूझकर फंसाया गया है। उन्होंने कहा कि वे जांच में पूरी तरह से सहयोग करेंगे और जहां भी पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा वे पहुंचते रहेंगे।

लालू यादव ने कहा कि भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में भी रैलियों में सृजन का पैसा खर्च किया है। लालू ने सवाल उठाते हुए कहा कि घोटाला से लेकर धारा 302 तक के कागज सार्वजनिक हो चुके हैं बावजूद इसके आखिर नीतीश कुमार और सुशील मोदी को क्यूं बचाया जा रहा है ? लालू ने निशाना साधते हुए कहा कि इस भ्रष्टाचार के छींटे अब पीएम और अमित शाह पर भी पड़ रहे हैं।

लालू प्रसाद ने झारखंड की सरकार पर भी निशाना साधा। यादव ने कहा कि यहां सड़कों पर प्रदर्श हो रहे हैं और बच्चे तड़प कर मर रहे हैं लेकिन सरकार जश्न मनाने में जुटी है। लालू ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार केवल विरोधियों को जेल पहुंचाने का काम करती है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *