कुमारस्वामी सरकार ने विश्वास मत जीता, BJP का वॉकआउट

आखिरकार कर्नाटक में लंबे समय से चले आ रहे सियासी उठापटक का आज पटाक्षेप हो गया। कर्नाटक विधानसभा में मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने विश्वास मत हासिल कर लिया है। इधर, बीजेपी ने फ्लोर टेस्ट से पहले ही सदन से वॉकआउट कर दिया। बीजेपी नेता येदियुरप्पा ने कहा कि अगर सरकार ने किसानों की कर्जमाफी नहीं की तो वे सोमवार से राज्यव्यापी प्रदर्शन करेंगे।

बता दें कि इससे पहले कुमारस्वामी ने कहा कि इस बार का जनादेश साल 2004 की तरह है। उस वर्ष मैं पहली बार विधायक बना था और सदन की कार्यवाही को देखता था। उन्होंने अपने मुख्यमंत्री बनने की बात पर कहा, 'ऐसा मेरे मुख्यमंत्री बनने की इच्छा के चलते ऐसा नहीं हुआ। मैं ये स्पष्ट कर देना चाहता हूं। ये गठबंधन केवल सत्ता हासिल करने के लिए नहीं बना है।

कुमारस्वामी ने कहा कि हमने राज्यपाल को पत्र सौंपा कि हमारे पास पर्याप्त संख्या बल है। राज्यपाल ने कहा कि हम देखेंगे। येदियुरप्पा ने कहा कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते उन्हें नियमों के तहत न्यौता मिला था। लेकिन पिछले कुछ सालों में हमने देखा है कि क्या हुआ है। गोवा में क्या हुआ? सबसे बड़ी पार्टी को वहां न्यौता नहीं मिला।

इससे पहले कांग्रेस नेता रमेश कुमार को सदन का निर्विरोध नया स्पीकर चुना गया है। रमेश कुमार के निर्विरोध स्पीकर चुने जाने पर कुमारस्वामी ने विपक्ष का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि रमेश कुमार के अनुभव और गाइडेंस से सदस्यों को फायदा होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *