हमारी पहचान मिटाने की हो रही साजिशः कुरमी मोर्चा

एसटी का दर्जा दिए जाने को लेकर 29 अप्रैल को महाजुटान

झारखंड कुरमी संघर्ष मोर्चा के प्रवक्ता डॉ. राजाराम महतो ने है कहा कि हमारी अपनी भाषा और संस्कृति ही हमारी आदिवासीयत की पहचान है। हमें इनसे अलग करने की साजिश चल रही है। उन्होंने कहा कि हमारी पहचान को मिटाने के लिए हमें अपने हक से वंचित किया गया है। कुरमी समाज अपने हक के लिए लाखों लाख की संख्या में मोरहाबादी मैदान में जुटेंगे। यह महाजुटान देश की राजनीति को प्रभावित करेगा।

बता दें कि झारखंड कुरमी संघर्ष मोर्चा द्वारा जनसंपर्क अभियान चलाया गया। जिसमें आगामी 29 अप्रैल को रांची के मोरहाबादी मैदान में होने वाले कुरमी महाजुटान को लेकर लोगों से अपील की गई। श्री महतो के नेतृत्व में सिल्ली, मुरी और आसपास के विभिन्न गांवो में जनसंपर्क अभियान चलाया गया। कुरमी समाज के लोगों को अपने हक और अधिकार के लिए कुरमी महाजुटान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की गई।

इस मौके पर युवा नेता प्रकाश कुमार महतो ने कहा कि कुरमी जाति की हक और अधिकार की लड़ाई में जो भी आड़े आएगा कुरमी/कुड़मी समाज किसी को नहीं छोड़ेगा। जनसंपर्क अभियान में मुख्य रूप से भगीरथ महतो, नंदलाल महतो, भक्ति महतो, अरुण महतो, सुभाष महतो, मनोज कुमार, राजेन्द्र महतो समेत काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *