एक और टूट की ओर जदयू

जदयू एक और टूट की तरफ बढ़ रहा है। शरद यादव के टूटते सब्र को देखकर को यही लग रहा है। पटना पहुंचे शरद यादव ने तो कुछ हद तक अपने बयाँ पर संयम रखा लेकिन हाजीपुर पहुंचते ही उनके बोल पूरी तरह बदल गए।

शरद ने तो यहां तक कह दिया कि लोग उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि जनादेश का अपमान हुआ है। नीतीश कुमार पर खुलकर कहा शरद ने। आज इशारों की सियासत ख़त्म हो गई और शरद यादव खुलकर नीतीश के खिलाफ मैदान में ताल ठोंककर उतर गए। शरद प्रकारांतर से आज लालू और तेज़स्वी की ही भाषा बोल रहे थे।

शरद के साथ दलित नेता रमई राम सरीखे लोग थे। जिनपर कार्रवाई के लिए मुजफ्फरपुर जिला इकाई ने लिख भी दिया है। जदयू के प्रवक्ता भी शरद पर हमलावर दिखे। यानि आनेवाले दिन जदयू एक और टुकड़े की तरफ बढ़ चला है। इससे नीतीश कुमार की सेहत पर तो कोई असर नहीं पड़ेगा लेकिन बिहार की मंडलवादी राजनीति में लालू के हाथ मजबूत होंगे।

कुछ समय तक फिर सियासी तीर चलेंगे और बिहार के आम लोग घायल होंगे। जदयू के संस्थापकों में एक रहे शरद यादव ने अपने ही कुनवे से राह अलग कर ली है, यह स्पष्ट हो चला है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *