जामताड़ा में बिजली संकट के खिलाफ सत्ताधारी दल के विधायक इरफ़ान अंसारी धरना पर बैठे

जामताड़ा जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्षता मंडल के नेतृत्व में जामताड़ा में खराब विद्युत आपूर्ति को देखते हुए जामताड़ा विधायक डॉक्टर इरफान अंसारी की उपस्थिति में बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता को ज्ञापन सौंपा गया। मौके पर विधायक ने कार्यपालक अभियंता सहित अनुमंडल पदाधिकारी को जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि अगर आप लोगों से बिजली व्यवस्था नहीं सुधर सकती तो आप लोग लिखकर दें। जामताड़ा में आए दिन ब्लैकआउट की स्थिति उत्पन्न हो गई है और जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। थोड़ी सी बरसात या आंधी तूफान में जामताड़ा अंधकार में डूब जाता है। पूर्व की भाजपा सरकार के दौरान विद्युतीकरण के नाम पर 600 करोड़ का टेंडर कर बाहरी कंपनियों को लाभ पहुंचाया गया परंतु सिर्फ कागज पर ही काम दिखा कर पैसे का बंदरबांट कर लिया गया। इस पूरे निविदा में एक बड़ा घोटाला भी हुआ है जिसकी जांच को लेकर मैं जल्द मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी से मिलूंगा। जामताड़ा में आए दिन बिजली की समस्या रहती है। जानबूझकर एक साजिश के तहत भाजपा वाले भी हेमंत सोरेन सरकार का छवि खराब करने के लिए बिजली पोल तक तोड़ देते हैं। अभी त्यौहार के समय कुछ असामाजिक तत्व जानबूझकर बिजली काट दिए ताकि सरकार का नाम खराब हो सके। मैंने जिला प्रशासन से भी बात किया है कि ऐसे असामाजिक तत्वों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें जो हेमंत सोरेन सरकार को बदनाम करना चाहते हैं।

आगे विधायक जी ने मौके पर ऊर्जा विभाग के एमडी राजीव अरुण एक्का से भी बात किया और जामताड़ा में सो रहे विकराल स्थिति से अवगत कराया। साथ ही कहा कि अगर जल्द ही इस समस्या का निष्पादन नहीं किया गया तो बाध्य होकर जनता को सड़क पर उतरना होगा। मौके पर एमडी साहब ने मामले को संज्ञान में लेते हुए कहा कि जल्दी जामताड़ा में हो रहे बिजली समस्या का समाधान किया जाएगा और ऐसे दोषी पदाधिकारी सहित असामाजिक तत्व पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सरकार का नाम खराब करने का अधिकार किसी भी व्यक्ति को नहीं है। अगर समस्याएं उत्पन्न होती है तो उसका समाधान करना हम सभी का कर्तव्य है। परंतु जानबूझकर कोई गलत नियत से गलत कार्य करेगा तो उसे नहीं बख्शा जाएगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *