केंद्र के इशारे पर काम कर रही जांच एजेंसियां: तेजस्वी यादव

राजद नेता तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा और सीधे-सीधे आरोप लगाया कि सरकार जांच एजेंसियों के माध्यम से उनको और उनके परिवार को टारगेट कर परेशान कर रही है. राजद नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने लारा प्रोजेक्ट की पटना स्थित 3 एकड़ जमीन ईडी द्वारा अटैच करने के बाद अपनी प्रतिक्रिया दी.

तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा है कि उनके परिवार को उम्मीद थी कि उनकी संपत्ति को अटैच किया जा सकता है। पर अब तक चार्जशीट नहीं फाइल हुई है. एफआइआर सीबीआई ने की थी. चार्जशीट दाखिल नहीं की है. ईडी ने संपत्ति को अटैच किया है तो कर ले. अब तो ईडी और इनकमटैक्स आपस में लड़ेंगे की किनका अटैचमेंट सही है. जब कोर्ट में मामला आएगा तब इस पर बहस होगी. इस मामले में तो कुछ सबूत ही नहीं है. तेजस्वी ने कहा कि ईडी द्वारा सामान्य प्रक्रिया के तहत कार्रवाई की गई है. लेकिन यह बात समझ में नहीं आ रही है कि वह जब खुद दो बार ईडी के पास गए, उनकी मां राबड़ी देवी उपस्थित हुईं, मेरा परिवार ईडी को पूरा सहयोग कर रहा है. उनके जो भी सवाल हैं उसका जवाब दिया गया. फिर ईडी किसके दबाव में आकर काम कर रही है.

उन्होंने कहा केंद्र द्वारा एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है. ना सिर्फ उनके परिवार बल्कि जितने भी विरोधी दल के नेता हैं उनके खिलाफ सेंट्रल एजेंसियां कार्रवाई कर रही हैं. जय शाह की कंपनी को 16000 गुना मुनाफा होता है और उसको लेकर सवाल उठाए जाते हैं तो कार्रवाई क्यों नहीं होती?

राजनीतिक षड्यंत्र के तहत यह किया गया है. लेकिन इस से कोई फर्क नहीं पड़ रहा है. सच की जीत होती है. आखिर 150 दिन हो गए चार्जशीट क्यों नहीं दाखिल की जा रही है. चार्जशीट बनाने का प्रयास किया जा रहा है, पर इनको कुछ मिल नहीं रहा है. इनके पास एक भी सबूत नहीं है. बताएं कि क्राइम ऑफ मनी क्या है? यह पैसा कहां से आया है. क्या हुआ है. रेलवे के टेंडर में घोटाला हुआ भी है कि नहीं. इस पर बात चल रही है. रेल मंत्रालय का IRCTC से कोई लेना-देना नहीं रहता है.

तेजस्वी चाहते हैं कि जल्द चार्जशीट फाइल हो जाए. चार्जशीट फाइल होने के बाद उनके ऊपर जितने भी आरोप हैं उसका पब्लिक डोमेन में आकर एक-एक करके जवाब देंगे. जो सच्चाई है वह सामने लाएंगे. सुशील मोदी की कितनी कम्पनियां हैं, संपत्ति है. रेखा मोदी और जय शाह पर कोई कार्रवाई क्यों नहीं होती.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *