मैं संभालूंगा लालू यादव की राजनीतिक विरासत- पप्पू यादव

राजद सुप्रीमो लालू यादव सजायाफ्ता हैं और रांची के रिम्स में उनका इलाज चल रहा है। लालू यादव फिलहाल सक्रिय राजनीति से दूर हैं और उनकी इस कमी को उनके बेटे तेजस्वी यादव भरपाई करने में जुटे हैं। बिहार सरकार को कई मुद्दे पर घेर भी रहे हैं। अपने बयान से सरकार के कई फैसले पर लगातार प्रहार कर रहे हैं।

इन सब के बीच जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और सासंद पप्पू यादव ने खुद को राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और उनकी पार्टी का असली राजनीतिक वारिस बताया है। पप्पू ने कहा कि लालू परिवार के लोगों ने ही साजिश के तहत उन्हें धृतराष्ट्र बना दिया। उन्होंने आशंका जताते हुए कहा कि कहीं यही लोग अपनी ओछी राजनीति के लिए लालू यादव की हत्या न करवा दें।
सांसद पप्पू यादव ने पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बिहार में सामाजिक न्याय और गरीबों की शुरुआत लालू यादव और पप्पू यादव ने की कोई अनुकंपा पर राजनीति करने वाले ट्विटर ब्वॉय ने नहीं।

उन्होंने कहा, "लालू यादव आज जिस हाल में हैं, उसके लिए उनका परिवार ही जिम्मेवार है। हम जनहित में संघर्ष करते हैं, ट्विटर पर नहीं।" पप्पू यादव ने मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर समीर कुमार की हत्या और उसके बाद एसएसपी हरप्रीत कौर के तबादले के लिए सफेदपोशों को जिम्मेवार ठहराया।

सांसद ने सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर अब तक शूटर की गिरफ्तारी क्यों नहीं हो सकी। उन्होंने कहा कि बिना उसकी गिरफ्तारी के सच्चाई का पता नहीं चलेगा। उन्होंने कहा, "सरकार के मंत्री के पुत्र का समीर के साथ किस बात को लेकर झगड़ा था? मंत्री का मोबाइल बंद क्यों है? जब हरप्रीत कौर इस मामले की साजिश का पदार्फाश करना चाहती थी, तब उनका तबादला क्यों कर दिया गया."

उन्होंने इस मामले की सीबीआई से कराने की मांग करते हुए कहा कि बिना गहन जांच के इस मामले में दोषियों का पता लगाना संभव नहीं है। सांसद ने बिहार में हो रही अधिकतर हत्याओं की वजह जमीन की दलाली को बताते हुए कहा कि इसमें नेता व अधिकारियों की भी संलिप्तता बड़े पैमाने पर है। इनकी जमीन हड़पने की साजिश में हत्या स्वाभाविक है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *