सूबे की सरकार का तख्ता पलट सकता हूं : जीतनराम मांझी

बिहार में सियासी सरगर्मी तेज होती जा रही है। लालू यादव भले ही जेल में हों पर सूबे में एनडीए के खिलाफ अपनी को मोर्चेबंदी वे दिनोंदिन ठोस करते जा रहे हैं इसी का असर है कि हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने फिर से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ अपनी भड़ास निकाली है। मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार ने उन्हें नाम का मुख्यमंत्री बनाया था। गया शहर के गांधी मैदान मे हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा सेक्युलर के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मांझी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाया कि उन्होंने उन्हें दिखावे के लिए सीएम बनाया था।

उन्होंने आरोप लगाया कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में हार के बाद नैतिकता के आधार पर नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया था लेकिन उसमें उनकी कूटनीति थी। वह सिर्फ नाम के मुख्यमंत्री थे। सारा कार्य नीतीश कुमार करते थे। सिर्फ उनको दिखावे के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाया था। लेकिन जब हम लोगों के सामने काम करने लगे तो उन्हें पद से हटा दिया।

मांझी ने कहा, ‘‘जब बाबू वीर कुंवर सिंह ने 80 वर्ष की उम्र में तलवार उठा ली थी तब मेरी उम्र तो अभी 73 वर्ष की ही है। अब हम भी तलवार उठा लेंगे। सरकार सतर्क हो जाये। सिर्फ किसान-मजदूर की भलाई की बात करने से कुछ नहीं होगा, बल्कि किसानों और मजदूरों को उनका हक देना होगा।’’ उन्होंने कहा कि आगामी 8 अप्रैल को पटना में लाखों की भीड़ रहेगी तो हम तख्ता पलट देंगे।

कहा जा रहा है कि बिहार में बदलते सियासी समीकरण में जीतनराम मांझी ना सिर्फ सीएम नीतीश कुमार के पुराने रवैये से नाराज हैं बल्कि एनडीए सरकार में उनके बेटे को मंत्री नहीं बनाए जाने से भी वो नाराज हैं। सूबे में इस बात की भी चर्चा जोरशोर से हो रही है कि जीतन राम मांझी की नजदीकियां राजद से बढ़ रही हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *