पहले सिस्टम ठीक करें, फिर करें बहस की बात: हेमंत

झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने सरकार और सीएम पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि सीएम रघुवर दास विकास पर बहस की बात कर रहे हैं। जनता जानना चाहती है कि उनके विकास का पैमाना क्या है। हाल में टीकाकरण से बच्चों की हुई मौत, भुखमरी से हुई मौत, कर्ज के दबाव में किसानों की आत्महत्या या राजधानी रांची में हुई पिछले एक माह में 17 लोगों की हत्या। क्या यही है सीएम के विकास पैमाना। हेमंत सोरेन ने सीएम से मांग की कि पहले इनके परिजनों से बहस कर लें, तब चर्चा और बहस की बात करें। हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री रघुवर दास और झारखंड सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार में लिप्त है। गांव के गरीब महिलाओं के नाम पर सरकार ने 18 करोड़ का कंबल घोटाला किया।

हेमंत सोरेन ने सीएम रघुवर दास पर प्रहार करते हुए कहा कि राज्य में शराब बेचने के नाम पर मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार को 600 करोड़ का चूना लगा दिया। वहीं टेंडर के नाम पर भी घोटाला जारी है, जिसे कैग ने भी माना है। झामुमो ने फ्लाईओवर के निर्माण पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि मैंने कभी नहीं सुना है कि बिना जमीन अधिग्रहण किए ही फ्लाईओवर का शिलान्यास और टेंडर कर दिया गया हो। कंपनियों को करोड़ों की जमीन औने-पौने दाम में दे दी गई। अब सरकार आंगनबाड़ी पोषाहार घोटले की तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार और सीएम किन-किन मुद्दों पर विकास की चर्चा, बहस करेंगे। पहले इन सभी मुद्दों पर जनता को जवाब दे दें, फिर मोरहाबादी मैदान में, मैं बहस करने के लिए तैयार हूं। मेरा मानना है कि रघुवर दास सीएम नहीं, बल्कि दिल्ली के लठैत और माफियाओं के संरक्षक हैं।

हेमंत सोरेन ने कहा कि बीजेपी की भाषा अलोकतांत्रिक है। उन्होंने कहा कि इनके नेता कुत्ता, बिल्ली, छुछूंदर, सांप आदि जैसी भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। ये लोगों को जाति-धर्म के नाम पर लड़वाते हैं। आज रोजगार के नाम पर नौजवानों को दंगाई बनाया जा रहा है। आरक्षण विरोधी ताकतों को बीजेपी समर्थन दे रही है। मेरा मानना है कि देश में इमरजेंसी नहीं बल्कि सिविल वार जैसी स्थिति है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *