ग्राम रक्षा दल के सदस्यों की अनदेखी कर रही सरकारः राउत

-28 मार्च से पटना में अनिश्चित कालीन आंदोलन

बिहार ग्राम रक्षा दल के मधुबनी जिलाध्यक्ष राम प्रसाद राउत ने कहा है कि ग्राम रक्षा दल की मांगों को लेकर आगामी 28 मार्च से पटना में अनिश्चित कालीन आंदोलन की शुरूआत की जा रही है। इस आंदोलन में हम गांधीवादी तरीके से सरकार और जनप्रतिनिधियों का ध्यान इस समस्या की ओर आकृष्ट करना चाहते हैं जिससे हजारों बेरोजगार लोगों आर्थिक, मानसिक संकट से न गुजरना पड़े।

उन्होंने कहा कि इस बाबत हमने प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, राज्यपाल, लोकसभा, राज्यसभा के सदस्यों, एमएलए, एमएलसी सदस्यों सहित सभी राजनीतिक दलों जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखा है। ताकि इस बड़ी समस्या से निदान का कोई रास्ता निकाला जा सके।

श्री राउत ने कहा कि ग्राम रक्षा दल के खिलाफ सरकार लगातार उदासीन रवैया अपना रही है। जबकि बिहार ग्राम रक्षा दल नियमावली 2004 के नियम 14 में यह प्रावधान किया गया है कि ग्राम रक्षा दल के सदस्यों, क्षेत्र पदाधिकारियों और दलपति के लिए समय-समय पर ग्राम पंचायत प्रशिक्षण की व्यवस्था करेगी। इसके बावजूद सरकार द्वारा इसकी अनदेखी की गई जिसके कारण अमरेंद्र शर्मा द्वारा दाखिल एक रिट याचिका पर पटना हाईकोर्ट ने निर्देश दिया कि दलपतियों के प्रशिक्षण के लिए सरकार नीति बनाए। लेकिन इसके बाद भी सरकार ने कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने सरकार से सवाल करते हुए कहा कि ग्राम रक्षा दल के सदस्य आखिर कहां जाएंगे, उनके परिवार का भरण-पोषण कैसे होगा, आखिर कब तक हम आश्वासनों के सहारे अपना जीवन-यापन करेंगे। उन्होंने कहा कि ग्राम रक्षा दल को एक अवैतनिक संस्था का दर्जा देकर सरकार हमारे साथ भद्दा मजाक कर रही है।

उन्होंने सरकार से मांग की कि ग्राम रक्षा दल के सदस्यों को मानदेय, पोशाक, परिचय पत्र एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। रात में गश्ति के दौरान ग्राम रक्षा दल के सदस्यों के साथ किसी प्रकार की कोई अनहोनी होने पर इसकी जिम्मेदारी एवं जीवन रक्षा बीमा की व्यवस्था की जाय। ग्रामीण पुलिस एवं अन्य चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों के रूप में नियुक्ति की जाय। इसके साथ ही होमगार्ड की तर्ज पर बिहार ग्राम रक्षा दल के सदस्यों की नियुक्ति, नियोजन एवं नियमावली बनायी जाय। श्री राउत ने कहा कि सरकारी सहायता के बिना ग्राम रक्षा दल के सदस्यों की स्थिति दयनीय हो गई है। उन्हें आर्थिक, मानसिक और सामाजिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *