ब्राह्मणों को कहा भिखारी ओडिशा के मंत्री को गंवानी पड़ी कुर्सी

राजनीति में निजी या जातिगत स्तर पर बयानबाजी देने का प्रचलन इस समय जोरों पर है. इस तरह की टिप्पणियों से राजनीति में खूब हंगामा भी हो रहा है. इस बार ओडिशा के एक मंत्री को ब्राह्मणों पर टिप्पणी करने पर अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पहले तो उनसे इस्तीफा मांगा, लेकिन जब मंत्री ने इस्तीफा नहीं दिया तो उन्हें बर्खास्त कर दिया. ओडिशा के कृषि मंत्री दामोदर राउत ने पिछले दिनों एक कार्यक्रम में ब्राह्मणों को भिखारी कहा था. उन्होंने कहा, ‘राज्य के किसी भी हिस्से में कोई आदिवासी भीख नहीं मांग रहा, जबकि बस स्टैंड जैसे स्थानों पर भी ब्राह्मणों को भीख मांगते कोई भी देख सकता है.’

राउत के इस बयान के बाद पूरे राज्य में उनके खिलाफ धरने-प्रदर्शन किए गए. विरोध बढ़ता देख मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने उनसे इस्तीफा मांगा, लेकिन राउत ने इस्तीफा देने से इनकार कर दिया. अंत में शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने उन्हें बर्खास्त कर दिया. पटनायक ने इस पर कहा कि किसी भी जाति या धर्म के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने वाले किसी भी व्यक्ति के वे खिलाफ हैं. उन्होंने कहा कि इस बारे में एक पत्र राज्यपाल को भेज दिया गया है. दामोदर राउत पारादीप से विधायक और वर्तमान सरकार में मंत्री हैं. वे इस समय बीजू जनता दल के उपाध्यक्ष भी हैं. राउत लगातार सात बार से विधायक हैं. इससे पहले भी वह कई बार विवादित बयान देकर चर्चा में आ चुके हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *