पीएम के बयान पर तंज कर फंसीं कांग्रेस नेता

गुड मॉर्निंग का जवाब नहीं देने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बीजेपी सांसदों की क्‍लास लगाने के मामले में नया मोड़ आ गया है। इस मामले में कांग्रेस के नेता भी कूद पड़े हैं। कांग्रेस प्रवक्‍ता प्रियंका चतुर्वेदी ने इस बात को लेकर पीएम मोदी पर तंज कसा जिसके बाद लोगों से उन्‍हें अजीबोगरीब जवाब मिलने लगे। कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया था कि ‘देश में रहना है तो प्रधानमंत्री को गुड मॉर्निंग कहना है।’ इसके बाद प्रतिक्रिया देने वालों की बाढ़ सी आ गई। लोग उलटा कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को लेकर ही उनसे सवाल पूछने लगे।

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी सांसदों की बैठक में इस बात पर आपत्ति जताई थी कि सांसद उनके ‘गुड मॉर्निंग’ का जवाब भी नहीं देते हैं। प्रियंका चतुर्वेदी ने इसको लेकर ट्वीट के जरिये पीएम मोदी पर निशाना साधा था। एक यूजर ने इसका जवाब देते हुए लिखा, ‘बहन जी इसे कहते हैं फटे में पैर फंसाना। प्रधानमंत्री तो बीजेपी के सदस्‍यों से बात कर रहे थे…मतलब कुछ भी और कहीं भी बस अंगुली करते रहना है।’ सुधीर राजभर ने ट्वीट किया, ‘मैडम मोदी जी अपने सांसदों से कह रहे हैं तो इसमें आपको कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए। आपको हर बात का विरोध करने की आदत तो नहीं पड़ गई है? देश का हर नागरिक सही-गलत समझने में सक्षम हो गया है, लेकिन आप और आपकी पार्टी का पता नहीं क्‍यों समझ में नहीं आता है।’ इसरा बलोच ने लिखा, ‘अब आप क्‍या गुड मॉर्निंग बोलने को भी प्रतिष्‍ठा का मुद्दा बना लेंगी। हमलोग तो अजनबियों को भी ऐसा बोलते हैं। यह बात तमीज की होती है…आपमें इसकी कुछ कमी लगती है।’ एक अन्‍य यूजर ने ट्वीट किया, ‘राहुल गांधी को आपलोग क्‍या कहते हैं? सीधे गुड ऑफ्टर नून या गुड इवनिंग?’

गुरुवार (28 दिसंबर) को लोकसभा में तीन तलाक पर विधेयक पेश करने से पहले बीजेपी संसदीय दल की बैठक हुई थी। इसमें पीएम मोदी ने कहा था कि वह कई बार सुबह में सांसदों को गुड मॉर्निंग मैसेज के साथ एक संदेश भेजते हैं, जिसका पांच-छह सांसदों के अलावा और कोई जवाब नहीं देता है। उन्‍होंने कहा था कि कई सांसद तो मैसेज देखते भी नहीं हैं। मोदी पार्टी सांसदों के रवैये पर कई बार नाराजगी जता चुके हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *